उत्तरकाशी: असीगंगा घाटी के कफलौ में युवाओं को फर्स्ट एड के गुर सिखाये

 

  • संतोष साह

 

उत्तराखंड पर्यटन विकास परिषद, पर्यटन विकास उत्तरकाशी द्वारा आयोजित सप्त दिवसीय साहसिक प्रशिक्षण में असीगंगा घाटी के कफलौ में रेडक्रास स्वंयसेवियों द्वारा युवाओं को प्राथमिक सहायता प्रशिक्षण के गुर सिखाते हुए रेडक्रास के टीओटी डाॅ. शम्भू प्रसाद नौटियाल ने आकस्मिक घटनाओं के समय बेसिक लाइफ सपोर्ट के तहत चौकिंग, सीपीआर, फ्रैक्चर, मरहम पट्टी, स्ट्रैचर तथा मनोवैज्ञानिक सहायता पर प्रशिक्षण दिया गया। एफएमआर नवीन रावत ने वाश व स्वच्छता पर अनुप्रयोग सिखाये तथा अक्षत बधानी ने ठोस कचरा निस्तारण पर प्रकाश डाला। इस अवसर पर रेडक्रास के वाइस चैयरमेन माधव जोशी ने कहा कि दुर्घटना कहीं भी हो सकती है, आपातकालीन स्थिति में किसी को प्राथमिक उपचार दे सकें या किसी की जान बचाने के लिए प्राथमिक चिकित्सा एक एहम कदम हो सकता है। यानि एक्सीडेंट या चोट लगने के बाद तुरंत फर्स्ट ऐड देने से घायल व्यक्ति की जान बचाई जा सकती है। प्राथमिक उपचार में सामान्य चोट के लिए पट्टी करने से लेकर सीपीआर देने की प्रक्रिया तक शामिल हो सकती हैं। इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को फर्स्ट ऐड देना आना चाहिए ताकि वह जरूरत पड़ने पर इसका इस्तेमाल कर सके। इस अवसर पर अनुदेशक सुनील सिंह रावत, शोभनी, रूद्रम जोशी, अंकित पंवार तथा अभिषेक रावत आदि मौजूद थे।

You may have missed