उत्तरकाशी : सतत विकास के लक्ष्यों के स्थानीयकरण विषय पर कार्यशाला आयोजित,डीएम दीक्षित बोले इससे सर्वागीण विकास का रोडमैप होगा तैयार

  • संतोष साह

सेंटर फॉर पब्लिक पॉलिसी एंड गुड गवर्नेंस उत्तराखंड नियोजन विभाग एवं यूएनडीपी के तत्वावधान में डीएम मयूर दीक्षित की अध्यक्षता में सतत विकास लक्ष्यों के स्थानीयकरण विषय पर दो दिवसीय जनपद स्तरीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला के प्रथम दिन डीएम ने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि कार्यशाला को सभी अधिकारी गंभीरता से लें।

उन्होंने कहा कि यह कार्यशाला बेहद महत्वपूर्ण है, इससे जनपद के सर्वागीण विकास हेतु भविष्य में एक रोड मैप तैयार होगा। डीएम ने कहा कि जिला योजना के अंतर्गत जो भी महत्वपूर्ण व बड़ी योजनाओं के कार्य पूर्ण हुए हैं उन्हें भी संबंधित विभाग एसडीजी के अंतर्गत शामिल करना सुनिश्चित करे। कार्यशाला में सामाजिक विकास समन्वयक अनिल कुमार डिमरी द्वारा सतत विकास के लक्ष्यों के बारे में विस्तार से प्रस्तुतिकरण के माध्यम से जानकारी दी गई।

उन्होंने बताया कि 2030 तक गरीबी,शून्य भूखमरी, कुपोषण को समाप्त करना तथा सभी आयु के लोगों में स्वास्थ्य, सुरक्षा व स्वस्थ जीवन को बढ़ावा देना है। इसके अलावा उन्होंने अन्य जानकारियां भी दी। कार्यशाला में सामाजिक विशेषज्ञ डॉ. जी.डी, भट्ट,पर्यावरण विशेषज्ञ डॉ. शंकर वर्तवाल,आजीविका मिशन डॉ. अनिल डिमरी,मानव विकास से डॉ. अजित गैरोला द्वारा भी विस्तृत जानकारी दी गई। कार्यशाला में मुख्य विकास अधिकारी पी.सी.डंडरियाल समेत विकास विभाग के अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

You may have missed