उत्तरकाशी : विश्व धरोहर दिवस पर गंगा विश्व धरोहर घोषित हो का संकल्प लिया,गंगा आरती स्थल पर हुए कार्यक्रम का शुभारंभ पालिका चेयरमैन सेमवाल ने किया

  • संतोष साह

विश्व धरोहर दिवस के मौके पर गंगा आरती स्थल उत्तरकाशी में हिमालय प्लांट बैंक की पहल पर गंगा को विश्व धरोहर घोषित किये जाने का संकल्प लिया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ पालिकाध्यक्ष रमेश सेमवाल ने पूजा अर्चना के साथ किया। इस अवसर पर गंगा आरती समिति को प्लांट बैंक ने गमले व पौधे भी भेंट किये। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पालिकाध्यक्ष ने कहा कि नगर में गंगा स्वच्छता को लेकर आने वाले समय मे और बेहतर प्रयास किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि गंगा न केवल राष्ट्रीय धरोहर है बल्कि विश्व धरोहर भी है।

उन्होंने यह भी कहा कि गंगा न केवल सुरम्य तटों में रहने वाले लोगों के लिये जीवन और आजीविका लाती है बल्कि प्रेरणा और मुक्ति भी लाती है। कार्यक्रम के संयोजक डॉ. शंभू प्रसाद नौटियाल ने कहा कि गंगा विश्व धरोहर घोषित हो का उचित उद्देश्य गंगा नदी को निर्मल तथा अविरल करने के साथ इसके प्रति आम लोगों में विशिष्ट चेतना पैदा करना है।

उन्होंने कहा कि गंगा के जल में न सिर्फ गंधक व वेक्टिरियोफेज जीवाणु बल्कि कुछ खास लवण व जड़ी बूटियां घुल जाती हैं जिससे गंगा का जल अन्य पानी के मुकाबले कही ज्यादा शुद्ध और औषधीय गुणों से परिपूर्ण हो जाता है।
इस मौके पर गंगा विश्व धरोहर घोषित हो विषय पर विभिन्न विद्यालयों में जो निबंध प्रतियोगिताआयोजित कराई गई उसमें सफल छात्रों को पुरस्कृत भी किया गया।

इनमें जूनियर वर्ग में प्रथम स्थान सरस्वती विद्या मंदिर चिन्यालीसौड़ के छात्र हिमांशु पंवार, द्वितीय राइका भंकोली के कार्तिक राणा व तृतीय स्थान पर सरस्वती विद्या मंदिर के भास्करानंद खडूडी व सीनियर वर्ग में प्रथम स्थान पीजी कॉलेज उत्तरकाशी के सुहेब बेग, द्वितीय सरस्वती विद्या मंदिर चिन्यालीसौड़ की अदिति रमोला व तृतीय स्थान पीजी कॉलेज उत्तरकाशी के सुबोध गुंसाई शामिल हैं।
इस अवसर पर पर्यावरण प्रेमी प्रताप पोखरियाल, गंगा आरती समिति अध्यक्ष उमेश बहुगुणा,रेडक्रॉस से जगमोहन अरोड़ा,प्लांट संस्थापक रजनी चौहान, माधव जोशी,डॉ. टी.आर.प्रजापति, कोमल असवाल,मगनेश्वर प्रसाद नौटियाल, मुरली मनोहर भट्ट, जुगल किशोर भट आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

You may have missed