उत्तरकाशी : सांसद की अध्यक्षता में हुई निगरानी समिति की वर्चुअल बैठक,डीएम समेत समिति के सदस्य भी जुड़े

  • संतोष साह

जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति(दिशा) की बैठक सांसद लोक सभा टिहरी गढ़वाल माला राज्यलक्ष्मी शाह की अध्यक्षता में बर्चुअल कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संपन्न हुई। एनआईसी कक्ष उत्तरकाशी से डीएम मयूर दीक्षित व समिति के सदस्य एवं अधिकारीगण भी बर्चुअल जुड़े। सांसद ने जनपद में संचालित समस्त केंद्रीय योजनाओं की समीक्षा की व सम्बंधित अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिए।

बताया गया कि एनआरएलम के अंर्तगत 535 समूहों को ऋण दिया गया। वर्तमान में 200 समूह के द्वारा ऋण हेतु आवेदन प्राप्त हुए है जिन्हें ऋण प्रदान करने हेतु बैंक को भेजे गये है। इस वित्तीय वर्ष में सेब व ऊन आधारित क्लस्टर तैयार किए जा रहे है  जिसमे डुंडा में ऊन एवं भटवाड़ी व मोरी में सेब क्लस्टर बनाने का कार्य किया जाएगा। वहीं पीएमजीएसवाई के अंर्तगत जनपद में कुल 170 सड़के स्वीकृत है जिसके सापेक्ष 69 सड़के पूर्ण हो चुकी है शेष में कार्य गतिमान है।

इस वित्तीय वर्ष में जनपद में 135 किमी सड़क का निर्माण किया जाना है जिसके अन्तर्गत करीब 5 किमी सड़क का निर्माण किया जा चुका है।इसके अतिरिक्त सांसद ने महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना,दीनदयाल अंत्योदय योजना (एन०आर०एल०एम०)दीनदयाल उपाध्याय कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, (पी०एम०जी०एस०वाई०), राष्ट्रीय सामाजिक कार्यक्रम(एन०एस०ए०पी०), प्रधानमंत्री आवास योजना(शहरी), प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल भारत भू अभिलेख आधुनिकरण कार्यक्रम, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन,  प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सर्व शिक्षा अभियान, समेकित बाल विकास योजना, मिड डे मील स्कीम, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना,परंपरागत कृषि विकास योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, सुगम्य भारत अभियान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा क्रियान्वयन की भी समीक्षा की। ब्लॉकप्रमुख भटवाड़ी द्वारा तिहार कुंजन सड़क के कार्यों में तेजी लाने का अनुरोध किया गया।

समिति के सदस्य अमीचन्द शाह द्वारा पुरोला में डेरिका- शुराणु सेरी तक व गमरी -मैंजणी सड़क मार्ग का डामरीकरण आदि सड़के पीएमजीएसवाई से कराने की मांग की। सांसद ने प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निस्तारण करने का आश्वासन दिया। समिति की सदस्य किरण पंवार द्वारा मांडों ग्राम सभा में दो लोगों की पेंशन नही लगी होने की बात कही। जिस पर डीएम ने जिला समाज कल्याण अधिकारी को तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री आवास शहरी योजना के अंर्तगत 597 आवास के लक्ष्य के सापेक्ष 205 आवास पूर्ण हो गए है। शेष में कार्य गतिमान होना बताया गया।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास में 636 लाभार्थियों का चिन्हांकन कर लिया गया धनराशि आवंटित होते हुए लाभार्थियों के खाते में हस्तांतरित कर दी जाएगी। स्वच्छ भारत मिशन में 200 स्वीकृत कार्य के सापेक्ष 112  कार्य पूर्ण हो गए है 88 कार्य गतिमान है। राष्ट्रीय पेयजल कार्यक्रम के अंर्तगत जल जीवन मिशन के अंर्तगत 666 राजस्व  गांव में 75 हजार 617 परिवारों के सापेक्ष  47 हजार से अधिक परिवारों को पानी का कनेक्शन दिया जा चुका है शेष में कार्य चालू है। सरकारी स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्रों में पेयजल कनेक्शन दिए जा चुके है। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना के अंर्तगत कुल 599 गांव के सापेक्ष 589 गांव में विद्युतीकरण कर लिया गया है जबकि शेष 10 गांव में विद्युतीकरण का कार्य गतिमान है। बीते वर्ष प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंर्तगत
4 हजार से अधिक किसानों का बीमा करवाया गया था। वर्तमान में भी किसानों के फसल बीमा करवाने हेतु जन जागरूकता अभियान चलाया गया है।मनरेगा में सबसे अधिक रोजगार देने में प्रदेश में पहला जिला है। प्रधानमंत्री उज्ज्वला गैस योजना के अंर्तगत करीब 15 हजार परिवारों को गैस कनेक्शन आवंटित किए जा चुके है। कौशल विकास योजना के अंर्तगत 449 सेवा केंद्र (सीएससी) कार्य कर रहे है। कोविड के कारण स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्र बंद है लेकिन बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को पोषण आहार घर में जाकर दिया जा रहा है।

डीएम मयूर दीक्षित ने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सांसद द्वारा दिये गए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करना सुनिश्चित करें। साथ ही अनुपालन आख्या सांसद को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।

बैठक में ब्लॉक प्रमुख डुंडा शैलेन्द्र कोहली, भटवाड़ी विनीता रावत, प्रतिनिधि माननीय सांसद राज्यसभा दिनेश खत्री, डीएफओ पुनीत तोमर, परियोजना निदेशक संजय सिंह, जिला विकास अधिकारी विमल कुमार आर्य, सीएचओ डॉ रजनीश,मुख्य कृषि अधिकारी गोपाल भंडारी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

You may have missed