उत्तरकाशी : वारुणी यात्रा में स्थित विमलेश्वर महादेव पर फिल्माया गया गढ़वाली भजन खूब भा रहा है, स्वर दिया है कैलाश सेमवाल व आशा अग्रवाल ने

 

  • संतोष साह

 

उत्तरकाशी की सुप्रसिद्ध वारुणी यात्रा मार्ग पर पड़ने वाले प्राचीन सिद्धपीठ विमलेश्वर महादेव के प्रति लोगो की अपार श्रद्धा है। पाटा, संग्राली व बग्याल गांव के नजदीकी घने देवदार, बांज व बुरांस के जंगलों के मध्य विमलेश्वर महादेव का पौराणिक मंदिर है। विमलेश्वर महादेव मंदिर की मान्यता व इसके आशीर्वाद को लेकर अभी हाल में एक गढ़वाली भजन लांच हुआ है। इस भजन को स्वर कैलाश सेमवाल व आशा अग्रवाल ने दिया है जबकि भजन में अभिनय कैलाश सेमवाल व डॉ. अंजू सेमवाल ने किया है। भजन के बोल में विमलेश्वर महादेव की जय -जयकारा के साथ वारुणी में श्रद्धालुओं के आने,सावन में कांवड़ के जल चढ़ाने से लेकर मुरादे पूर्ण होने के अलावा विमलेश्वर महादेव के पुजारियों की भी सभी लोगों पर कृपा रहने आदि को लेकर भजन में स्वर,संगीत दिया गया है। भजन के फिल्मांकन के दौरान स्थानीय वेशभूषा में ग्रामीण महिलाओं ने भी भजन में नृत्य किया है जबकि अन्य की भी भागेदारी इस दौरान रही है। गढ़वाली भजन को संगीत व निर्देशन सुंदर सैलानी ने दिया है जबकि एडिटिंग अभय सिंह व कैमरामैन राजेश आर्यन हैं। इस गढ़वाली भजन में विशेष सहयोग पालिका सभासद उषा चौहान, देवेंद्र चौहान व सहयोग रेखा सेमवाल,उर्मिला रमोला,भैरव दत्त जोशी,जगदीश प्रसाद रतूडी का रहा।

You may have missed