उत्तरकाशी : उत्तराखंड महोत्सव व सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम,डीएम दीक्षित के निर्देश पर अधिकारियों ने गांवों में लगाई चौपाल

 

  • संतोष साह

 

उत्तराखंड महोत्सव एवं सरकार जनता के द्वार कार्यक्रम के तहत डीएम मयूर दीक्षित के निर्देशों के क्रम में जनपद स्तरीय अधिकारियों ने सुदूरवर्ती गांवों का भ्रमण किया और गांव-गांव में चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्या सुनीं। मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ रजनीश सिंह पिलंग गांव पहुंचे और उन्होंने रात्रि चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्या सुनीं। ग्रामीणों द्वारा सबसे सुदूरवर्ती गांव के लिए योजनाओं को प्राथमिकता देने की मांग की। गांव में नेटवर्क कनेक्टिविटी की व्यवस्था करने, सोलर लाइट लगाने, पिलंग गांव के लिए बनाई जा रही सड़क निर्माण कार्यों में तेजी लाने की प्रमुख मांग की गई । ग्रामीणों को अपनी खेती तक पहुंचने के लिए पिलंग गाड़ पर झूला पुल लगाने की मांग की गई। हर्षिल के तर्ज पर गांव में केसर का बीज उपलब्ध कराने की भी मांग की गई। सेब,अखरोट की उन्नत किस्म की पौध, पॉलीहाउस व पैक हाऊस का निर्माण करने की मांग की गई। सुदूरवर्ती गांव होने के कारण स्वास्थ्य परीक्षण हेतु समय-समय पर डॉक्टरों की टीम गांव में भेजी जाय यह भी ग्रामीणों की मांग रही। मुख्य शिक्षाधिकारी विनोद प्रसाद सेमल्टी ने पिपली (धनारी) में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। ग्रामीणों द्वारा पेयजल लाइन को दुरुस्त करने,आंगबाड़ी केंद्र की छत ठीक करने,मॉडल स्कूल की चार दिवारी का कार्य करने के साथ ही सुरक्षा दीवाल लगाने की मांग की तथा किसानों को कृषि यंत्रों को चलाने का प्रशिक्षण देने की बात की गई। गांव में सिंचाई नहर व चेक डेम बनाने की मांग भी प्रमुखता से रखी गई। जिला पूर्ति अधिकारी मनोज सोनी ने बयाणा गांव में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। ग्रामीणों द्वारा पीएमजीएसवाई के अंर्तगत जामक- बयाणा सड़क मार्ग में किसानों की भूमि व फसलों का प्रतिकर नही मिलने, पक्की नालियों व कलवट का निर्माण करने, स्कूल व एक आवासीय भवन के पास भू-धसाव होने के कारण सुरक्षा दीवाल लगाने,झूलती हुई बिजली की तारों को ठीक करने की मांग की गई। इस दौरान पूर्ति विभाग द्वारा जिन उपभोक्ताओं के राशन कार्ड ऑनलाइन नही थे उनके राशन कार्ड ऑनलाइन किए तथा 70 परिवार को पीवीसी कार्ड वितरित किए। जिला सहायक निबंधक द्वारा जिब्या में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। पीएमजीएसवाई के अंर्तगत रमोली-तराकोटा सड़क मार्ग में आयी किसानों की भूमि का प्रतिकर नही मिलने की शिकायत ग्रामीणों द्वारा की गई। गांव में सिंचाई नहर बनाने,पेयजल लाइन को दुरुस्त करने की मांग की गई। अधिशासी अभियंता जल संस्थान बी.सी. डोगरा ने नंदगांव में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। अधिशासी अभियंता जल निगम मुकेश जोशी ने भाटिया गांव में ग्रामीणों की समस्या सुनीं। ग्रामीणों द्वारा प्रधानमंत्री आवास, भाटिया गांव से ऊपर बगीचों तक सड़क मार्ग को ठीक करने,गोशालाओं का भुगतान करने की मांग की गई।

उधर चौपाल में जो भी समस्याये आई उन्हें अधिकारियो ने निस्तारण के वास्ते डीएम के संज्ञान में लाने की बात कही।

You may have missed