उत्तरकाशी : 23 हजार किलोमीटर माउंटेन बाइकिंग कर चुकी सविता माउंटेन बाइकिंग को साहसिक पर्यटन के रोजगार से जोड़ना चाहती हैं

  • संतोष साह

पहली बार नेलांग घाटी में बाइकिंग की अनुमति मिलने के बाद वहां बाइक से जाने वाले 20 सदस्यीय ग्रुप की लीडर रही सविता अब इसे रोजगार से जोड़ना चाहती है। 24 वर्षीय सविता पिछले चार साल से उत्तरकाशी में मॉन्टेनरिंग का कार्य कर रही हैं।

मूलतः छपरा बिहार की निवासी सविता उत्तरकाशी में रहकर मॉन्टेनरिंग से जिस तरह जुड़ी है उससे साहसिक पर्यटन को लेकर जिले के युवाओं को भी माउंटेन बाइक में मदद मिल रही है। सविता अभी तक माउंटेन बाइक में 23 हजार किलोमीटर का सफर कर चुकी हैं। जिसमे देश के प्रमुख स्थानों समेत भूटान,श्रीलंका भी शामिल हैं। हाल में उन्होंने नेलांग घाटी का भी बाइक से ट्रेक पूरा किया। अभी पिछले दिनों उन्होंने देहरादून और मसूरी के बीच हुई बाइक रेस में भी भाग लिया और महिलाओं में तीसरे स्थान पर रही।

उन्हें मुख्यमंत्री ने भी सम्मानित किया जो उत्तरकाशी के लिये भी गौरव की बात है। सविता कहती है कि वह इसे अब प्रोफेसनल बनाना चाहती है ताकि इससे रोजगार के भी अवसर पैदा हों।

Leave a Reply

You may have missed