उत्तरकाशी : गढ़वाली बोली में रामलीला मंचन वास्ते तीन दिवसीय कार्यशाला भराड़ी कुटीर मांडों में शुरू

  • संतोष साह

श्री आदर्श रामलीला समिति उत्तरकाशी द्वारा आने वाले समय मे रामलीला का मंचन स्थानीय गढ़वाली भाषा मे हो इसके लिये समय-समय पर कार्यशाला आयोजित किये जाने का क्रम जारी है। इस बीच आज से 4 जुलाई तक समिति द्वारा भराड़ी देवी शांति साधना कुटीर मांडों में आयोजित की जा रही है। जिसमे समिति को मार्ग दर्शन व सहयोग शांति भाई शास्त्री मानस प्रेमी का मिल रहा है। कार्यशाला का यह चौथा भाग है इससे पूर्व कार्यशाला उत्तरकाशी, रेसकोर्स देहरादून व मनेरी में भी आयोजित की जा चुकी है।

You may have missed