उत्तरकाशी : राज्य स्थापना दिवस हर्षोल्लास से मनाया,कई कार्यक्रम हुए आयोजित

 

 

  • संतोष साह

 

 

राज्य स्थापना दिवस जनपद में हर्षाल्लास के साथ मनाया गया। जनपद मुख्यालय एंव तहसीलों में बृहद रूप से कार्यक्रम आयोजित किए गए। उधर प्रदेश स्तर पर आयोजित कार्यक्रम व मुख्यमंत्री के संबोधन को सभी तहसीलों एवं जिला मुख्यालय पर लाईव देखा गया। राज्य स्थापना दिवस पर जिले में बतौर मुख्य अतिथि कैबिनेट एवं जिला प्रभारी मंत्री गणेशी जोशी, यमुनोत्री विधाायक केदार सिंह रावत, डीएम मयूर दीक्षित,पुलिस अधीक्षक मणिकांत मिश्रा, राज्य आन्दोलनकारी संयुक्त समिति अध्यक्ष डा. बिजेन्द्र पोखरियाल ने उत्तराखण्ड शहीद राज्य आन्दोलनकारियों के चित्र पर माल्यापर्ण कर पुष्पांजलि अर्पित की।

जिला प्रेक्षागृह में आयोजित कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री ने अपने सम्बोधन में राज्य स्थापना दिवस की सभी प्रदेश वासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने शहीद राज्य आन्दोलनकारियों को नमन करते हुए कहा कि उत्तराखण्ड राज्य बड़े कठिन संघर्ष के बाद मिला हैं। राज्य निर्माण में हमारी मातृ शक्ति का योगदान अतुलनीय रहा हैं। उत्तराखण्ड राज्य निर्माण में समाज के हर वर्ग ने अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इस दौरान उन्होंने केन्द्र व राज्य सरकार की उपलब्धियों को भी गिनाया। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवा मुख्यमंत्री ने जनता के अन्दर विश्वास पैदा करने का काम किया हैं। उन्होंने कहा कि आपदा को रोका नहीं जा सकता हैं लेकिन आपदा के जोखिम को कम करने का काम हमारी सरकार ने किया। इधर राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर जनपद मुख्यालय एवं तहसील स्तर पर आयोजित कार्यक्रम में सूचना एंव लोक सम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित विकास पुस्तिका उत्तराखण्ड विकास के स्वर्णिम पथ पर पुस्तिका का विमोचन भी किया गया। इस अवसर पर विभिन्न विभागों द्वारा विभागीय स्टाॅल स्थापित कर सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी आमजन को दी गई। कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री ने साईकिल रैली को भी हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस अवसर पर यमुनोत्री विधायक श्री रावत ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार की महत्वपूर्ण विकासपरक योजनाएं धरातल पर साकार हो रही हैं। राज्य निरन्तर स्वर्णिम उपलब्धियों की ओर अग्रसर हो रहा हैं। राज्य स्थापना दिवस का यह ऐतिहासिक दिन उन वीर राज्य आन्दोलनकारियों को समर्पित हैं जिन्होंने उत्तराखण्ड राज्य निर्माण में बलिदान देते हुए अपनी अहम भूमिका निभाई है।

राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर कैबिनेट मंत्री ने जिले के राज्य आन्दोलकारियों, राष्ट्रीय एवं अन्तराष्ट्रीय स्तर पर अद्वितीय योगदान के लिए गौरव सम्मान,सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित लाभार्थियों, आपदा एवं अन्य कार्यो में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अधिकारियों एवं कर्मचारियों को भी सम्मानित किया गया। राज्य आन्दोलनकारी जिन्हें सम्मानित किया गया उनमें विजेन्द्र पोखरियाल, मोहनान्द विजल्वाण,धर्म सिंह असवाल,जयेन्द्र सिंह बिष्ट,जेठूलाल भारती,बृजमोहन भट्ट,राजेन्द्र प्रसाद पैन्यूली,रमेश चन्द्र उनियाल, तेग सिंह राणा,शूरवीर सिंह राणा,प्रताप सिंह चौहान, सुरेन्द्र सिंह चौहान,विजय बहादुर सिंह रावत,घनश्याम प्रसाद बहुगुणा,मूलचंद सिंह पंवार,विजय पाल राणा, प्रताप चौहान, जगदीश प्रसाद भट्ट, के.के. विजल्वाण,जयवीर सिंह रांगड़, कमल सिंह असवाल, संदीप उनियाल, गैण सिंह राणा शामिल रहे। स्थापना दिवस पर जिन्हें उत्तरकाशी गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया उनमें

कर्नल अमित बिष्ट, द्वारिका प्रसाद सेमवाल, प्रताप सिंह पोखरियाल पर्यावरण प्रेमी,

महिमानन्द तिवारी, सविता कंसवाल,राजेश रावत, मनीषा नेगी शामिल हैं। कार्यक्रम में भंगेली,कुज्जन,क्यार्क,तिहार,जौड़ाव,भेलाटिपरी,पाही,सालंग,स्याबा,कुमाल्टी,कामर,जोकाणी,पटारा गांव के 72 लाभार्थियों को स्वामित्व कार्ड का वितरण भी किया गया। मुख्यमंत्री महालक्ष्मी किट,प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत खाद्यान वितरण,अंत्योदय, राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा योजना कार्ड का भी वितरण किया गया इसके अलावा राष्ट्रीय ग्रामीण आजिविका मिशन के अन्तर्गत सर्व शक्ति कलस्टर चिन्यालीसौड़ एवं प्रगति कलस्टर डुण्डा को पांच-पांच लाख के चैक भी वितरण किए गए। कार्यक्रम में राजकीय बालिका इंटर कालेज की बालिकाओं द्वारा रंगारंग कार्यक्रम की प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का संचालन सहायक समाज कल्याण अधिकारी गोपाल राणा ने किया।

इस अवसर पर अन्य अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद रहे।

You may have missed