उत्तरकाशी : दिवंगत विधायक गोपाल के कार्यों को गति देने के लिये शांति गोपाल रावत मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव लोनिवि से मिली,रैथल की दो सड़कों को मिली मंजूरी

 

 

  • संतोष साह

 

रैथल गांव को सरकार ने दो मोटर मार्गों के निर्माण स्वीकृति प्रदान की है जिसमे पर्यटन गांव रैथल मोटर मार्ग का होगा चौड़ीकरण व भयूं फलपट्टी भी जुड़ेगी सड़क से आदि शामिल है।बीते दिनों दिवंगत विधायक की धर्मपत्नी व भाजपा से टिकट की दावेदार शांति गोपाल रावत ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, प्रमुख सचिव लोनिवि व अनुभाग के अधिकारियों से मुलाकात कर गंगोत्री विधानसभा की प्रस्तावित सड़कों को स्वीकृति दिलवाने के लिये भागदौड़ की फलस्वरूप राज्य सरकार ने रैथल गांव की दो महत्वपूर्ण मोटर मार्गों को स्वीकृति देते हुए शासनादेश जारी कर दिया। अब रैथल से भंयू फलपट्टी तक मोटर मार्ग का निर्माण व भटवाड़ी से रैथल तक मोटर मार्ग के चौड़ीकरण को स्वीकृति देते हुए शासनादेश जारी कर दिया गया है।

श्रीमती रावत ने बताया कि बीते पांच सालों में रैथल पर्यटन गांव होने के साथ ही विकास कार्यों का प्रमुख केंद्र बनकर उभरा है। स्व. गोपाल सिंह रावत ने पर्यटन गांव रैथल में करोड़ों की लागत से 12 से अधिक योजनाओं को स्वीकृति दी। उन्होंने कहा कि अब रैथल गांव में स्व. विधायक द्वारा प्रस्तावित अन्य योजनाओं को स्वीकृति दिलवाने के लिए वे लगातार प्रयास कर रही है। उन्होंने बताया कि स्व. गोपाल ने रैथल को अपने रहते जिन योजनाओं का तोहफ़ा दिया उनमें सामुदायिक केंद्र को ग्रोथ सेंटर में तब्दील, रैथल फार्म में पैकिंग हाउस का निर्माण,रैथल के पोखरी से चुलयाणा तक आतंरिक मोटर मार्ग का निर्माण, रैथल से दयारा बुग्याल तक ट्रैक मार्ग का निर्माण, रैथल के समेश्वर देवता मंदिर परिसर में पांचगांव गेस्ट हाउस के निर्माण की स्वीकृति, रैथल से हेलीपैड़ तक मोटर मार्ग का अवशेष निर्माण व डामरीकरण,नाग देवता मंदिर, पोखू देवता मंदिर, सती देवी मंदिरों का पुनर्निर्माण व मरम्मत कार्य,भटवाड़ी से रैथल तक मोटर मार्ग के चौड़ीकरण के कार्य को स्वीकृति, रैथल- द्वारी गोरसाली मोटर मार्ग का डामरीकरण, रैथल से गोरगेरा फल पट्टी को मोटर मार्ग से जोड़ने की योजना को स्वीकृति व दयारा बुग्याल में पारंपरिक बटर फेस्टिवल का आयोजन कराना आदि शामिल है।