प्रदेश में 7 नई हेलीसेवा,मुख्यमंत्री धामी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सिंधिया ने किया फ्लैग ऑफ,जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट में नई टर्मिनल बिल्डिंग का भी हुआ उदघाटन

 

  • संतोष साह

 

 

 

नागरिक उड्डयन और एयर कनेक्टिविटी के क्षेत्र में आज का दिन उत्तराखण्ड के लिए विशेष उपलब्धियों का रहा। प्रदेश में दूरस्थ क्षेत्रों के लिए हेलीसेवाएं शुरू की गईं तो वहीं जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट की नई टर्मिनल बिल्डिंग का शुभारम्भ भी हुआ। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर उत्तराखण्ड में विभिन्न हेलीसेवाओं का फ्लैग ऑफ कर शुभारम्भ किया। उन्होंने जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट की नई टर्मिनल बिल्डिंग का भी उदघाटन किया। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री ने देहरादून हवाई अड्डे से उत्तराखण्ड के तीन स्थानों के लिए नई हवाई सेवा, 18 नए हेलीकॉप्टर मार्ग शुरू करने और देहरादून हवाई अड्डे में अंतरराष्ट्रीय स्तर सुविधाएं विकसित करने की घोषणाएं की।

मुख्यमंत्री और केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री द्वारा देहरादून-हल्द्वानी,पंतनगर

-देहरादून और सहस्त्रधारा-चिन्यालीसौड़ के लिए हेलीसेवा का फ्लैग किया। इसी के साथ आज से राज्य मे सात नए मार्गों के लिए हेलीसेवाएं शुरू हो गई हैं। इधर नए रूप में दिखेगा अब जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट जिसकी क्षमता में भी विस्तार हुआ है। मुख्यमंत्री व उड्डयन मंत्री ने नए टर्मिनल भवन का संयुक्त रूप से लोकार्पण किया। जिसमे पूरे देश से आने वाले पर्यटकों और यात्रियों को नई टर्मिनल बिल्डिंग में उत्तराखण्ड की कला और संस्कृति के भी दर्शन होंगे।

 

इस दौरान नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जनरल वी.के. सिंह (रिटायर्ड) , राज्यसभा सांसद नरेश बंसल, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल, पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, देहरादून मेयर सुनील उनियाल गामा के अलावा सांसद डॉ. रमेश पोखरियाल “निशंक“ वर्चुअल  माध्यम से मौजूद रहे।

You may have missed