उत्तरकाशी : जिले में 4668 लाभार्थियों का पीएम आवास के लिये चयन,एनआईसी में विधायक केदार व डीएम दीक्षित ने कुछ लाभार्थियों को योजना के प्रमाण पत्र भी किये वितरित

  • संतोष साह

जिले में 4 हजार 668 लाभार्थियों का चयन प्रधानमंत्री आवास के लिए किया गया है। जिसमें 1 हजार 410 लाभार्थियों को शनिवार को स्वीकृत प्रमाण पत्र जारी किए गए है। एनआईएसी कक्ष में विधायक यमुनोत्री केदार सिंह रावत एवं डीएम मयूर दीक्षित ने भटवाड़ी की सीता,सुषमा,सुरभादेवी, चिन्यालीसौड़ की मंजू,नीलम,आरती देवी, डुंडा की आरती, सरिता, अंसा देवी,रामदेई आदि को प्रधानमंत्री आवास योजना के प्रमाण वितरित किए। वहीं यमुनावैली में खंड विकास अधिकारी पुरोला द्वारा प्रमाण पत्र वितरित किए गए हैं। इस मौके पर विधायक ने सभी महिला लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास की पहली किस्त दिए जाने पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का मूल मंत्र है सबका साथ,सबका विकास।

प्रधानमंत्री ने देश की महिलाओं के हित में अनेक सकारात्मक फैसले लिए जिसमे महिलाओं की भागेदारी सुनिश्चित की गई है। विधायक ने इस दौरान केंद्र व राज्य सरकार की उपलब्धियां भी महिलाओं को बताई और कहा कि आवास विहीन परिवारों को आवास देकर लाभान्वित किया गया। गांव के घर-घर से लेकर तोक व छानियों तक सरकार पानी व बिजली पहुंचाने का कार्य तेजी के साथ कर रही है। दीनदयाल योजना के अंर्तगत निःशुल्क बिजली के कनेक्शन दिए जा रहे है वहीं जल जीवन मिशन योजना के अंर्तगत हर घर को पानी देने की मुहिम में पहले चरण में कनेक्शन देने का कार्य पूर्ण कर लिया गया है। दूसरे चरण में हर घर को पर्याप्त व स्वच्छ जल पहुँचाया जाएगा। डीएम ने सभी लाभार्थियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ जनपद के हर पात्र लाभार्थियों को मिलेगा।

उन्होंने कहा कि इस वर्ष चार हजार से अधिक लाभार्थियों का चयन किया गया। जिसमें 1410 लाभार्थियों को आज पहली किस्त जारी की गई है। डीएम ने आह्वान किया कि जो लाभार्थी सबसे अच्छा घर बनाएगा उसे पुरस्कृत किया जाएगा। इस दौरान डीएम ने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि ग्राम विकास अधिकारियों की निगरानी में तेजी के साथ आवास का कार्य पूर्ण कराया जाय।
कार्यक्रम में ब्लॉक प्रमुख भटवाड़ी विनीता रावत, डुंडा शैलेन्द्र कोहली,मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार,जिला विकास अधिकारी विमल कुमार सहित लाभार्थी उपस्थित थे।

You may have missed