उत्तरकाशी : विधायक गोपाल के प्रयास से गंगोत्री विधानसभा के दुर्गम गांव पिलंग में सड़क का सपना जल्द होगा पूरा,वन भूमि हस्तांतरण का 1 करोड़ वन विभाग के कैम्पा मद में हुआ जमा

  • संतोष साह

गंगोत्री विधानसभा के सबसे दूरस्थ व दुर्गम गांव में सड़क पहुंचने का सपना विधायक गंगोत्री गोपाल रावत के अथक प्रयास से पूरा होने जा रहा है। इस गांव तक सड़क पहुंचाने के लिये वन भूमि हस्तांतरण के तहत 1 करोड़ रुपये वन विभाग के कैम्पा मद में जमा हो गया है। अब जल्द ही गांव के लिये सड़क के निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा। पिलंग गांव तक सड़क पहुंचाने का वादा जो विधायक ने पिलंग गांव में ग्रामीणों को किया था वह पूरा होने जा रहा है। गांव तक सड़क की इस खुशखबरी से ग्रामीणों में अपार हर्ष व खुशी है। गांव के प्रधान अतर सिंह राणा ने कहा है कि पिलंग गांव तक सड़क पहुंचाना सबके लिये सपना जैसा था मगर विधायक गोपाल ने सपना हकीकत में बदल दिया। गांव के लोग विधायक के शुक्रगुजार हैं कि उन्होंने गांव की पीड़ा को समझा।
विधायक ने बताया कि पिलंग मोटर मार्ग ,भंगेली मोटर मार्ग व सालंग मोटर मार्ग का अब आंखरी अवरोध भी खत्म हुआ।उन्होंने कहा कि वन भूमि हस्तांतरण की धनराशि जमा होने के बाद अब जल्द ही निर्माण की प्रक्रिया भी शुरू हो जाएगी। उन्होंने कहा कि हर गांव को सड़क से जोड़ने की मुहिम अपने अंजाम तक पहुंचने लगी है। उन्होंने कहा कि सबसे दुर्गम पिलंग जहाँ 18 किलोमीटर पैदल नापना पड़ता है वहाँ हम सड़क पहुंचा रहे है। श्री रावत ने कहा कि 2017 में विधायक बनते ही उन्होंने उक्त गांवों को सड़क से जोड़ने के लिये प्रयास शुरू किये। वन भूमि की जटिल प्रक्रिया का लगातार फॉलोअप के साथ ही विभागीय स्तर पर भी लगातार सक्रियता के चलते इन सड़कों के निर्माण की राह आसान हुई।

Leave a Reply

You may have missed