उत्तरकाशी : मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर नगर पालिका अध्यक्ष रमेश सेमवाल ने मृतक पोर्टरों के परिजनों को 20-20 लाख की सहायता व नौकरी देने की मांग की

 

 

  • संतोष साह

 

नगर पालिकाध्यक्ष रमेश सेमवाल ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को पत्र लिखकर उत्तरकाशी जनपद के तीन पोर्टरों की दर्दनाक मौत के बाद उनके परिजनों को समुचित सहायता देने की मांग की है। पालिकाध्यक्ष ने पत्र में कहा है कि भारतीय थल सेना के सिपाहियों की सेवा हेतू ठेकेदारी प्रथा के अंतर्गत सैनिकों का सामान ढोने के लिए सेना में अस्थाई रुप से तीन पोर्टर शामिल थे। जिनकी बर्फबारी में रास्ता भटकने के कारण बर्फीली ठंड में मौत हो गई यी। इन तीनों पोर्टरों की पारिवारिक स्थिति दयनीय है। तीनों ही युवा ध्याड़ी-मजदूरी करके अपने परिवार का पालन पोषण करते थे। इनकी मृत्यु के बाद अब परिवार आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। अध्यक्ष ने बताया कि उनका इस तरह से मरना पहाड़ की गरीबी बेरोजगारी को दर्शाता है। रोजगार के अभाव के चलते पहाडी युवा अपनी जान जोखिम में डालकर असुरक्षित नौकरी करने को मजबूर हो रहे है। जिसके फलस्वरूप वे अपनी जान से हाथ धो बैठते है। वही पालिका अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री से उनके बच्चों का लालन -पालन की जिम्मेदारी भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस को उठाने के साथ ही सरकार उन्हें 20-20 लाख रुपए देकर परिवार की आर्थिक रुप से सहायता करने की मांग की और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की भी मांग की है। पालिकाध्यक्ष ने रविवार को शोक संतप्त परिवार के बीच जाकर उनका हाल जाना और हर संभव मदद का भी भरोसा दिया।

You may have missed