द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर की उत्सव डोली पहुंची शीतकालीन गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ,हुआ भव्य स्वागत

 

  • संतोष साह

 

पंचकेदारों में विख्यात द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर की उत्सव डोली आज शीतकालीन पंचकेदार गद्दीस्थल ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ पहुंची जहां उत्सव डोली की पूजा-अर्चना एवं भब्य स्वागत हुआ तत्पश्चात उत्सव डोली गद्दीस्थल में विराजमान हो गयी। इस दौरान श्रद्धालुओं ने उत्सव डोली के दर्शन किये एवं मनौतियां मांगी। इससे पूर्व उत्सव डोली का स्थान-स्थान में फूलवर्षा से स्वागत हुआ। मंगोलचौंरी तथा पांडव काली में केदारनाथ धाम के रावल भीमाशंकर लिंग के प्रतिनिधि केदार लिंग महाराज ने विशेष पूजा-अर्चना की तथा उत्सव डोली का स्वागत किया।

उधर आयुक्त गढवाल वउत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रविनाथ रमन ने लोगों को मद्महेश्वर मेले की शुभकामनाएं दी हैं।

इस अवसर पर उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के सदस्य श्रीनिवास पोस्ती, पूर्व विधायक आशा नौटियाल देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.डी. सिंह, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चंडी प्रसाद भट्ठ,केदार सभा अध्यक्ष विनोद शुक्ला, लक्ष्मी नारायण जुगरान ने ओंकारेश्वर मंदिर में श्री मद्महेश्वर जी की उत्सव डोली की अगवानी की। इधर देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी बी.डी.सिंह ने बताया कि श्री मद्महेश्वर की उत्सव डोली के श्री ओंकारेश्वर मंदिर उखीमठ में विराजमान होते ही भगवान मद्महेश्वर जी की शीतकालीन पूजाएं शुरू हो गयी है। श्री मद्महेश्वर की उत्सव डोली उखीमठ पहुंचने के अवसर पर पारंपरिक रूप से मद्महेश्वर मेला आयोजित किया गया हालांकि कल 24 नवंबर से ही नगर पंचायत द्वारा मेले की शुरुआत कर दी गयी थी। मेले का उदघाटन रावल भीमाशंकर के प्रतिनिधि केदार लिंग महाराज ने किया।

You may have missed