उत्तरकाशी : सांसद टिहरी की अध्यक्षता में निगरानी समिति की हुई बैठक

 

  • संतोष साह

 

जिला विकास समन्वय और निगरानी समिति(दिशा) की बैठक सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में उन्होंने केंद्रीय योजनाओं की समीक्षा की व सम्बंधित अधिकारियों को जरूरी दिशा निर्देश दिए। समिति के सदस्य ब्लाक प्रमुख मोरी बचन सिंह पंवार ने सौड़-ओसला सड़क मार्ग पर मोटर सेतु,नैटवाड़-नुराणु मोटर मार्ग की स्थिति एवं मोरी सालरा सड़क मार्ग से क्षतिग्रस्त सिंचाई नहरों को दुरुस्त करने की बात कही। अध्यक्ष नगर पालिका बाड़ाहाट रमेश सेमवाल ने बगियालगांव को जोड़ने वाले क्षतिग्रस्त रास्तों के निर्माण करने,गंगोरी संगमचट्टी सड़क मार्ग को ठीक करने का मुद्दा उठाया।

सांसद ने महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना,दीनदयाल अंत्योदय योजना,दीनदयाल उपाध्याय कौशल योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना राष्ट्रीय सामाजिक कार्यक्रम, प्रधानमंत्री आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, डिजिटल भारत भू अभिलेख आधुनिकरण कार्यक्रम, दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, सर्व शिक्षा अभियान, समेकित बाल विकास योजना, मिड डे मील स्कीम, प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना,परंपरागत कृषि विकास योजना, मृदा स्वास्थ्य कार्ड, प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, सुगम्य भारत अभियान, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा क्रियान्वयन की भी गहन समीक्षा की। डीएम मयूर दीक्षित ने सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि सांसद द्वारा दिये गए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन करना सुनिश्चित करें तथा बैठक में जो समस्या व शिकायते प्राप्त हुई है, सम्बंधित विभाग उस पर कृत कार्यवाही कर रिपोर्ट मुख्य विकास अधिकारी को प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें। मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार ने प्रस्तुतिकरण के माध्यम से विस्तार से योजनाओं की जानकारी प्रदान की।

बैठक में समिति के सदस्य ब्लॉक प्रमुख डुंडा शैलेन्द्र कोहली,मोरी बचन सिंह पंवार, पुरोला रीता पंवार, नगर पालिका अध्यक्ष बड़ाहाट रमेश सेमवाल,मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार सीएमओ डॉ.के.एस. चौहान, सीएचओ डॉ.रजनीश सिंह समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।