उत्तरकाशी : वैवाहिक बंधन के दिन नव दम्पति वधू सहायक उद्यान अधिकारी व वर शिक्षक ने गांव मे फलदार पौध रोपकर नई परंपरा की,कि शुरुआत

  • संतोष साह

जिले की गाजणा पट्टी के गांव धौंत्री में कोविड नियमों का पालन करते हुए अपनी शादी के दिन नव दंपति शिक्षक नितेश बहुगुणा एवं बधू सहायक उद्यान अधिकारी नीलम सेमवाल बहुगुणा ने फलदार वृक्ष रोपकर गांव में नई परंपरा की शुरुआत की जिसे ग्रामीणों ने भी सराहा। ग्राम पंचायत धौंत्री के सामाजिक कार्यकर्ता  विमला बहुगुणा एवं मोहन लाल बहुगुणा के पुत्र शिक्षक नितेश बहुगुणा का  दया सेमवाल एवं केदार सेमवाल की सुपुत्री सहायक उद्यान अधिकारी नीलम सेमवाल का विवाह 25 जून को हुआ। विवाह संस्कार सम्पन्न होने के बाद जल स्रोत धारा पूजन के अवसर पर वधू ने फलदार वृक्ष रोपने की बात कही। फलदार वृक्ष नव दंपति ने रोपकर गांव में शादी के मौके पर एक वृक्ष लगाने की जो परंपरा शुरू की उसे ग्रामीणों ने भी सराहा।

You may have missed