उत्तरकाशी : नगर पालिका को अग्रिम 29 लाख देना होगा जिला पंचायत को तब लगेगा रामलीला मैदान में माघ मेला : रमेश सेमवाल

 

  • संतोष साह

 

उत्तरकाशी का पौराणिक माघ मेला लगेगा इसकी जिला पंचायत ने घोषणा कर दी है। माघ मेला पूर्व से जिला पंचायत ही करती आ रही है रामलीला मैदान में मगर इस बार रामलीला मैदान के सौंदर्यीकरण के तहत उसमें पालिका द्वारा घास लगाए जाने और मैदान की हिफाजत करने को देखते हुए यदि मेला कराया जाना है तो उसकी भरपाई की मांग पालिका ने की है। नगर पालिका के अध्यक्ष रमेश सेमवाल ने बातचीत में बताया कि मैदान को घास लगाने के बाद सुरक्षित किया गया है। पालिका ने काफी जदोजहद के बाद मैदान को अतिक्रमण से मुक्त कराया है। मैदान को सुरक्षित करने और इसको इसके पुराने लुक में लाने के लिये वहां लाखों रुपये खर्च कर दूब घास लगाई गई है। ऐसे में यदि मैदान में मेला लगता है तो किया धरा सब बेकार हो जाएगा। उन्होंने कहा कि माघ मेले का उदघाटन, देवी-देवताओं की डोलियों का आवागमन होगा तो वह रामलीला मंच की ओर सीमित रहेगा और यदि मैदान में पिछले वर्षो की भांति मेला लगेगा तो उसके लिये जिला पंचायत को पालिका को 29 लाख रुपये वह भी अग्रिम देना पड़ेगा ताकि मेले के समापन के बाद मैदान का पुनः सौंदर्यीकरण के साथ वहां घास लगाई जा सकेगी। पालिका अध्यक्ष ने बताया कि मेले की बैठक में पालिका को जिला पंचायत की ओर से हालांकि उक्त धनराशि देने की बात हुई है। उन्होंने कहा कि यदि अग्रिम पैसा नही मिला तो तब मेले की दुकान, मेले के खेल जोशियाड़ा में नदी किनारे लगेंगे और मैदान के पंडाल में मेले के सिर्फ कार्यक्रम होंगे,मैदान सुरक्षित रहेगा।