उत्तरकाशी : कोविड-19 प्रभारी मंत्री यतीश्वरानंद ने कोविड को लेकर समीक्षा की,डीएम दीक्षित ने संक्रमण के रोकथाम व नियंत्रण की व्यवस्थाओं का ब्यौरा दिया

  • संतोष साह

जिले के कोविड -19 प्रभारी मंत्री यतीश्वरानंद ने आज वर्चुअल उत्तरकाशी में कोविड-19 के प्रसार को कम करने को लेकर किये जा रहे कार्यों की समीक्षा की। मंत्री ने स्वास्थ्य,उपचार, दवा, एम्बुलेंस, सेम्पलिंग, मानवीय संसाधनों की उपलब्धता की जानकारी भी ली। समीक्षा में यमुनोत्री विधायक केदार सिंह रावत,जिला पंचायत अध्यक्ष दीपक बिजल्वाण ने भी कोविड को लेकर सुझाव दिये जिस पर प्रभारी मंत्री ने जिला प्रशासन को संज्ञान लेने को कहा।  यतीश्वरानंद ने कहा कि संसाधनो की कोई कमी नहीं है। मानवता को बचाने के लिये सरकार निरंतर प्रयास कर रही है।

समीक्षा के दौरान डीएम दीक्षित ने बताया कि जिले में ऑक्सीजन व दवा की कमी नहीं है। जिला अस्पताल में 120 ऑक्सीजन बैड हैं जिसमे 25 आईसीयू के भी है। जिले में कोरोना जांच नियमित चल रही है। जिले की सीमा नगुण व डामटा में बाहर से आने वाले लोगों की नियमित सेम्पलिंग की जा रही है। कोविड को लेकर हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। जिले में डोर टू डोर सर्वे के लिये टीम गठित की गई हैं। जिनकी संख्या 27 है। जिले में 19 एम्बुलेंस हैं जिन्हें सीएचसी व पीएचसी में रखा गया है जबकि जिला अस्पताल में 108 की पर्याप्त उपलब्धता है। 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को लगने वाले टीके की तैयारी पूर्ण कर ली गई है। वैक्सीन उपलब्ध होते ही टीकाकरण में तेजी लाई जाएगी। जनपद में 45 से 59 वर्ष तक उम्र के 85 हजार नागरिकों के सापेक्ष 65 हजार से अधिक लोगों का टीकाकरण हो चुका है। डीएम ने बताया कि वैक्सीनेशन को लेकर राज्य में जिला उत्तरकाशी प्रथम स्थान पर है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में एसपी मणि कांत मिश्र,एडीएम तीर्थपाल, सीएमओ डॉ. जोशी,प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल डॉ. सुरेन्द्र दत्त सकलानी आदि भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

You may have missed