उत्तरकाशी : पहले क़ुराह फिर सालंग और अब हीना व कंकराड़ी की सडक को भी मिली वन भूमि की स्वीकृति, विधायक गोपाल का शुक्रिया

  • संतोष साह

विधानसभा में कोई भी गांव सडक से वंचित न रहे विधायक गोपाल की यह मुहिम रंग ला रही है। गौरतलब है कि पिछले दो हफ्ते में गंगोत्री विधानसभा को विधायक के अथक प्रयासों से चार सड़कों को वन भूमि की स्वीकृति मिल चुकी है। अब हीना और कंकराड़ी भी सडक से जुड़ेंगे। इन दोनों सड़कों को आज वन भूमि की स्वीकृति मिल गई है। हीना और कंकराड़ी के लोगों को इसका इंतजार लंबे समय से था लिहाजा सड़कों की वैन भूमि से स्वीकृति मिलने पर ग्रामीणों ने खुशी जताई है और विधायक का तहदिल से आभार व्यक्त किया है।

उधर उक्त दोनों गांवो की सडक को वन भूमि की स्वीकृति मिलने पर विधायक ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस की सरकार में दोनो सड़कों की फ़ाइल धूल फांक रही थी। लेकिन हमने इन सड़कों की फाइलों की धूल साफ कर उसे आगे बढ़ाया। लगातार सड़कों को स्वीकृति दिलाने के लिये प्रयासरत रहे नतीजन दोनो सड़कों को वन भूमि से स्वीकृति दिला दी। विधायक ने कहा कि एक पखवाड़े में चार सड़कों को वन भूमि से स्वीकृति मिल चुकी है। विधायक का यह भी कहना था कि विधानसभा के हर गांव को सडक से जोड़ा जाय यह उनकी प्राथमिकता भी रही है। उन्होंने कहा कि इसी माह चार सड़कों को वन भूमि की स्वीकृति मिलने के बाद इन सड़कों के निर्माण की राह आसान हो जाएगी।
उधर उक्त दोनों सड़कों को वन भूमि की स्वीकृति मिलने के बाद हीना व कंकराड़ी के ग्रामीणों में काफी खुशी है। हीना निवासी विजय पाल मखलोगा, बीडीसी अमित सेमवाल,रजनीश समेत तमाम लोगों ने कहा है कि वर्षो पुराना सपना पूरा हुआ है।

Leave a Reply

You may have missed