भारतीय सेना में कैराना के बेटे ने लेफ्टिनेंट बनकर कर शहर को किया गौरवान्वित

विशाल भटनागर/सनसनी सुराग न्यूज

कैराना । भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनकर कैराना के बेटे ने शहर को गौरवान्वित किया है। जहां उनके आवास पर बधाई देने वालों का तांता लगा है, बताया जाता है कि आइएमए में हुई पासिंग आउट परेड में उन्हें यह सफलता मिली है। बात करें तो अधिकतर जवानों ने देश की रक्षा के लिए आर्मी को चुना। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में आईएमए में पास आउट हुए अंशुमन सिंघल भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बने हैं जिससे कैराना जनपद शामली का नाम रोशन किया है और लोगों में खुशी का माहौल देखा गया है बताते चलें कि उन्होंने कैराना में रहकर लगन के साथ पढ़ाई करी है पहले तो वह है कैराना के सेंट आरसी स्कूल में शिक्षा ग्रहण की है तो वहीं उन्होंने बाद में सेंट फ्रांसिस शामली में भी शिक्षा हासिल की है

 

 

अंशुमन सिंघल के पिता व्यापारी है और माता अनीता सिंघल शिक्षिका हैं, हाल में ही गत शनिवार को उनका भारतीय सेना में नाम आने के बाद उनकी उपलब्धि पर पूरा शहर उत्साहित है। पीओपी में उनके कंधों पर सितारे लगाते ही स्वजनों के चेहरे खिल उठे,इसके उन्होंने देश की रक्षा का संकल्प लिया और शनिवार को लेफ्टिनेंट बन गए। यह भी बताते चलें कि कैराना में बदमाशों द्वारा व्यापारियों से रंगदारी मांगने के बाद हत्या की गई थी उसी दौरान अरविंद सिंघल कैराना छोड़कर शामली में जा बसे थे हालांकि भाजपा सरकार आने के बाद बदमाशों पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के फरमान के बाद पुलिस द्वारा कैराना में बदमाशों को सलाखों के पीछे एवं एनकाउंटर में ढेर कर कार्रवाई की गई थी जिसके बाद कैराना का माहौल बदल गया था और लोगों में सुरक्षा की प्रति एक अलग उम्मीद जगी थी