उत्तरकाशी : जिला अस्पताल में अब आंखों के आपरेशन,परिवार नियोजन आदि की व्यवस्था पुनः शुरू,इलाज के लिये ओपीडी में भी भीड़ बड़ी

  • संतोष साह

कोरोना काल मे जो ब्रेक कोरोना को छोड़ अन्य स्वास्थ्य सेवाओं में लगा था वह ब्रेक अब लगभग समाप्त हो चुका है। अब सभी आपरेशन होने लगे है। ओपीडी में भी खासी भीड़ बढ़ने लगी है। इलाज के लिये अब जिला अस्पताल का रुख मरीज करने लगे है।

इस बीच कोविड को लेकर जिन आपरेशन में ब्रेक लगा था वह ब्रेक अब खत्म हो गया है। जिला अस्पताल के प्रमुख अधीक्षक डॉ. सुरेन्द्र दत्त सकलानी से स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर हुई बातचीत में उन्होंने बताया कि अब आंख के आपरेशन,परिवार नियोजन यानि नसबंदी की भी पुनः सुविधा चालू हो चुकी है। उन्होंने बताया कि अब तक 29 आपरेशन हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि इसका लाभ लोग उठा सकते हैं। डॉ. सकलानी ने कहा कि जिला अस्पताल में लगभग सभी सुविधाएं हैं। जिसकी सेवा व लाभ पेशेंट को लेनी चाहिये।

कोविड को लेकर प्रमुख अधीक्षक का कहना है कि कोरोना के लिये न कोई बड़ा और न कोई छोटा होता है। कोरोना के लिये न कोई अमीर न कोई गरीब होता है। कोरोना कोई ऊंची पोस्ट या ओहदा नहीं देखता लिहाजा इस पर लोग ढिलाई न बरतें। उन्होंने अभी भी सामाजिक दूरी बनाए रखने,मास्क लगाने को जरूरी बताते हुए हैंड वाश भी बार-बार किये जाने की लोगों को एक चिकित्सक के नाते भी सलाह दी। डॉ. सकलानी ने कहा किसी भी तरह का स्वास्थ्य को लेकर कोई तकलीफ हो तो संकोच न करते हुए यदि कोविड जांच लोग कराते हैं तो वह अपने व अपने नजदीकी या परिजनों के लिये भी बेहतर होगा। उन्होंने कहा कि सभी सुविधाएं दुरुस्त हैं। सबसे बड़ी बात अब होम आइसोलेशन की है। यदि कोरोना है भी तो घर मे इलाज हो जाएगा। गंभीर स्थिति में अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भी बेहतर सुविधाएं हैं। किसी भी पेशेंट को कही कोई दिक्कत हो इसका मतलब ही नही बनता।

Leave a Reply

You may have missed