उत्तरकाशी : कोरोना काल के बाद सामान्य मरीजों की जिला अस्पताल में कम हो रही एंट्री,विधायक गोपाल ने प्रमुख अधीक्षक को दिए अस्पताल में मरीजों के आवागमन को लेकर राहत देने के प्रचार-प्रसार के निर्देश,प्रमुख अधीक्षक बोले सभी सेवाएं सामान्य हैं घबराने की जरूरत नही

  • संतोष साह

उत्तरकाशी के जिला अस्पताल में कोविड-19 के बाद सामान्य मरीजों की आवाजाही में कमी आई है। दरअसल मरीज जिला अस्पताल में यह सोच कर नहीं जा रहा है कि कही कोविड का टेस्ट लेकर उसे होस्पिटलाइजेड न कर दें।

मगर इसको लेकर कही जागरुकता न लाये जाने और आवश्यक कदम न उठाएं जाने के फलस्वरूप कतिपय चिकित्सकों की अपने घरों पर या खोले गए क्लीनिकों में बैठकर दुकानदारी चल पड़ी है। दोपहर 2 बजे बाद जो मरीज कोविड से पहले अस्पतालों में आया करते थे यह मजमा अब कतिपय चिकित्सकों के घर व उनके संरक्षण में चल रहे क्लीनिक में चल रहा है। यहां किसी भी कोविड टेस्ट की बात नही होती।

सादे कागज पर मरीज का पर्चा,मिलने के लिये टोकन और तय मेडिकल स्टोर व पैथोलॉजी सब फिक्स है। कोरोना काल मे कई बेरोजगारों ने मेडिकल की दुकानें खोली लेकिन यहाँ दवा की बिक्री शून्य है। प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल डॉ. एस. डी. सकलानी ने साफ कहा कि यदि कोई सरकारी डॉ. निजी रूप से मरीजों की दुकानदारी चला रहा है तो वह अवैध है। बाकयदा इसको लेकर प्रशासन व स्वास्थ्य महकमे को भी अवगत कराया गया है।

उधर जिला अस्पताल में मरीजों की सभी सुविधाओं के बावजूद कम आमद को लेकर विधायक गंगोत्री गोपाल रावत ने भी इसे गंभीरता से लिया है। उन्होंने मरीजों के कोविड टेस्ट के डर से जिला अस्पताल न पहुंचने की उन पर पहुंची शिकायत को संज्ञान में लेते हुए प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल को इस सिलसिले में राहत बरतने,प्रचार -प्रसार के माध्यम से संदेश पहुंचाकर मरीजों को अस्पताल आने के लिये प्रोत्सहित करने के निर्देश दिए ताकि लोगों को सामान्य बीमारी के लिये भी अस्पताल से बाहर चिकित्सकों के यहाँ के चक्कर न काटने पड़ें।
उधर प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल डॉ. सकलानी ने कहा कि मरीज व उनके तीमारदार कोविड को लेकर जिला अस्पताल में आने से कतई न घबराएं। उन्होंने कहा कि कोई सामान्य तौर पर भी यदि कोविड निकलता है तो अब तो उसे अस्पताल के बजाय होम आइसोलेशन की व्यवस्था है। यानि कोविड मरीज अपने घर मे भी रह सकता है। यदि कोई गंभीर है तो उसे अस्पताल की जरूरत पड़ेगी ही।

उन्होंने अस्पताल में कोविड मरीज के लिये सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त होने की बात कही। डॉ. सकलानी ने कहा कि अब धीरे-धीरे कोविड पॉजिटिव में कमी आ गई है। उम्मीद करते है कि बहुत जल्द स्थिति सामान्य होगी मगर सतर्कता रखनी होगी। मास्क व सामाजिक दूरी बनाए रखनी होगी। प्रमुख अधीक्षक जिला अस्पताल ने ऐसे सभी मरीजों और उनके तीमारदारों से अपील की है कि बेहिजक जिला अस्पताल आएं और यहाँ चिकित्सकों से इलाज की सेवा ले। उन्होंने कहा कि अस्पताल में ओपीडी चालू है। जिला अस्पताल में अल्ट्रासाउंड, एक्सरे,पैथोलॉजी समेत सभी जांच की ब्यवस्था दुरुस्त चलने की भी बात कही।

Leave a Reply

You may have missed