गुरु गोबिंद सिंह जी के 356वे प्रकाश पर्व के अवसर पर गुरुद्वारा प्रेमनगर में सजा दीवान,गुरु गोबिंद सिंह जी थे भारत की सच्चे राष्ट्र नायक – सूर्यकांत धस्मना, देहरादून 

 

गुरु गोबिंद सिंह जी के 356वे प्रकाश पर्व के उपलक्ष में आज कैंट विधानसभा के अंतर्गत गुरुद्वारा प्रेमनगर में एक भव्य दीवान सजा । जिसमें कीर्तनियों ने गुरु गोबिंद सिंह जी महाराज के जीवन के बारे में, गुरु गोबिंद सिंह जी के संघर्ष के बारे में और गुरु गोबिंद सिंह जी के बलिदान के बारे में अपने शब्द-कीर्तन संगतों को सुनाए। इस अवसर पर उत्तराखंड प्रदेश कोंग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष श्री सूर्यकांत धँसमाना ने संगतों को गुरु गोबिंद सिंह जी के 356वें प्रकाश उत्सव की बधाई देते हुए गुरु गोबिंद सिंह जी के जीवन पर प्रकाश डाला।

 

उन्होंने कहा कि गुरु गोबिंद सिंह जी भारत के राष्ट्रनायक थे ।उन्होंने आदि गुरु शंकराचार्य के बाद पूरे भारत वर्ष को आध्यात्मिक एवं राजनैतिक रूप से जोड़ा।

 

पटना साहब में जन्म लिया, हेम कुंड साहब में तपस्या की, पंजाब को कर्मस्थली बनाया और नांदेड़ साहब में अपना शरीर त्यागा । उन्होंने पूरे जीवन भारत वर्ष के तमाम सनातनी हिन्दुओं की रक्षा के लिए अपना जीवन न्योछावर किया ।

 

श्री धस्माना ने कहा कि वे देश के ऐसे गुरु थे जिन्होंने देश, धर्म और क़ौम के लिए केवल अपने पिता और माता का बलिदान ही नहीं बल्कि अपने 4-4 पुत्रों का भी बलिदान कर दिया।

इस अवसर पर गुरुद्वारा प्रबंधन कमेठी के प्रधान श्री भगत सिंह सेठी, सचिव श्री एके आहूजा , श्री सुमित खन्ना, श्री जितेन्द्र तनेजा, श्री रविंद्र सिंह रैना और तमाम श्रधालु उपस्थित रहे ।