गोकशी का आरोपी गले में तख्ती डाल खुद पहुँच गया कोतवाली, योगी सरकार में कैराना में दूसरी बार अपराधी खुद तख्ती डाल कर पहुच गया, कोतवाली प्रभारी ने की पूछताछ, अब अपराधियो पर कहर बनकर बरस रही है पुलिस

विशाल भटनागर / सनसनी सुराग न्यूज

कैराना: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में अपराधी पुलिस के निशाने पर ना आकार अपराधों से तौबा कर रहे हैं। यह कोई आज की बात नहीं जब प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार आयी थी तो तत्कालीन पुलिस अधीक्षक अजय पाल शर्मा के समक्ष भी कैराना का अपराधी पेश हुआ था। ऐसे ही मामला कैराना का मंगलवार को भी सामने आया।
यहां भी कोतवाली पुलिस प्रभारी निरीक्षक के समक्ष एक गो कशी का आरोपी तख्ती गले में डाल कर खुद थाने आ गया।
मंगलवार को भी एक ऐसा ​ही मामला सामने आया जहा काफी समय से फरार चल रहा एक आरोपी गले में तख्ती डाल कोतवाली पहुच गया। बताया जाता है कि गोकशी के मुकदमे में फरार चल रहा गांव भूरा का अहसान गले में तख्ती डालकर कोतवाली पहुंचा। उसने अपराध से तौबा की। साथ ही, भविष्य में किसी तरह का अपराध न करने की कसम खाई,

 

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा ने उससे पूछताछ की। और हिरासत में ले लिया,कैराना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा की तैनाती के बाद कैराना में हलचल होनी शुरू हो गयी है,अपराधी किस्म के व्यक्तियों को डर सताने लगा है। गौरतलब रहे की गत जुलाई माह में कैराना कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र के गांव भूरा स्थित एक मकान पर छापा मारकर मकान के अंदर चल रही गोकशी का भंडाफोड़ किया था। जहां से पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की थी, जबकि उसके तीन साथी अहसान, आरिफ और नसीम पुलिस को चकमा देकर फरार होने में कामयाब हो गए थे। पुलिस ने मकान के अंदर से भारी मात्रा में गोमांस, गोकशी करने के उपकरण बरामद करने का भी दावा किया था। जिसके कुछ दिन बाद फरार तीन आरोपियों में से आरिफ और नसीम को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था,लेकिन आरोपी अहसान नामक अभी फरार चल रहा था। मंगलवार को अहसान अपने हाथों में अपराध से तौबा…तौबा…तौबा, लिखी एक तख्ती लेकर नवनियुक्त कोतवाली प्रभारी प्रेमवीर राणा के समक्ष पेश हुआ,ओर उनसे अपने आगे भविष्य में अपराध ना करने की कसम खाता रहा।

जिसके बाद कोतवाली प्रभारी प्रेमवीर सिंह राणा ने आरोपी के अपराधिक इतिहास की जानकारी करने हेतु रजिस्ट्रर मंगाकर जांच की। पुलिस के अनुसार आरोपी पर 2019 में भी मामला दर्ज है। इतना ही नहीं हाल में ही जुलाई माह में भी मुकदमा दर्ज है। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक प्रेमवीर सिंह राणा ने बताया कि हिरासत में लिया गया युवक गोकशी के मामले में फरार चल रहा था। जिस पर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

Leave a Reply

You may have missed