उत्तरकाशी : गढ़वाली बोली में रामलीला के 6ठवें भाग की कार्यशाला चिन्यालीसौड़ में

  • संतोष साह

 

श्री आदर्श रामलीला समिति उत्तरकाशी द्वारा भविष्य में रामलीला मंचन को गढ़वाली भाषा मे उतारने के लिये लगातार प्रयास जारी हैं। इसके लिये समिति द्वारा समय-समय पर कार्यशाला आयोजित कर तैयारी की जा रही है।

इधर चिन्यालीसौड़ में रामलीला समिति द्वारा गढ़वाली भाषा व बोली में कार्यशाला का छठवां भाग शुरू हुआ है जो कि तीन दिन चलेगा। चिन्यालीसौड़ में भरत चंद रमोला के सहयोग से कार्यशाला आयोजित की जा रही है। कार्यशाला के शुभारंभ पर समिति के पदाधिकारियों व सदस्यों द्वारा बतौर मुख्य अतिथि उनका स्वागत कर कार्यशाला आयोजित कराने के लिये आभार जताया। इस अवसर पर रामलीला समिति चिन्यालीसौड़ के अध्यक्ष प्रदीप बिष्ट,रामलीला समिति उत्तरकाशी के अध्यक्ष गजेंद्र मट्रूड़ा,कार्यशाला संयोजक जयेंद्र सिंह पंवार, दिनेश नौटियाल,कैलाश सेमवाल,रुकुम चंद रमोला,माधव प्रसाद,प्रहलाद,प्रताप रावत,राधा बल्लभ नौटियाल,विक्रम शाह,महेंद्र पंवार,विजय चौहान समेत अन्य मौजूद थे।

You may have missed