उत्तरकाशी : रामलीला की 70वीं पुनरावृत्ति आज शाम से, पहली बार गढ़वाली बोली में रामलीला का होगा मंचन, विधायक केदार सिंह रावत होंगे मुख्य अतिथि

 

 

  • संतोष साह

 

उत्तरकाशी के रामलीला मैदान में पिछले 69 साल से रामलीला होती है। इस बार रामलीला की 70वीं पुनरावृत्ति होगी। गौरतलब है कि इस बार 70वीं पुनरावृत्ति का एक नया अंदाज यह होगा कि पहली बार रामलीला में पहाड़ की संस्कृति और बोली भी नजर आएगी यानि रामलीला का मंचन गढ़वाली बोली में होगा जिसके लिये श्री आदर्श रामलीला समिति द्वारा पिछले एक वर्ष में समय-समय पर कार्यशाला का आयोजन कर इस बार उसे मंच में उतारने का निर्णय लिया गया। इससे उत्तरकाशी की रामलीला में एक नई परंपरा का इतिहास भी जुड़ जाएगा।

 

इधर आज उत्तरकाशी में श्री आदर्श रामलीला समिति के द्वारा गढ़वाली बोली में लीला का शुभारंभ होने जा रहा है। जिसका शुभारंभ बतौर मुख्य अतिथि यमुनोत्री के विधायक केदार सिंह रावत करेंगे। यह जानकारी रामलीला समिति की ओर से दी गई है।

उधर उत्तरकाशी में पहली बार गढ़वाली बोली में रामलीला आयोजन को लेकर लोगों में न केवल उत्साह है बल्कि इसका बेसब्री से इंतजार भी है।

You may have missed