उत्तरकाशी : देवस्थानम बोर्ड रद्द फैसले पर गंगोत्री मंदिर समिति आभार व्यक्त करने पहुंची स्व. विधायक गोपाल के आवास,शांति गोपाल रावत का भी किया आभार व्यक्त

 

 

  • संतोष साह

 

राज्य की भाजपा सरकार द्वारा देवस्थानम बोर्ड रद्द किए जाने पर श्री पांच मंदिर गंगोत्री मंदिर समिति के पदाधिकारी दिवंगत विधायक गोपाल रावत के आवास पहुंचे। इस मौके पर उन्होंने जहाँ स्व.विधायक के प्रयासों को याद कर आभार जताया तो वहीं उनकी धर्मपत्नी शांति गोपाल रावत को गंगा जल कलश भेंट कर उनका भी आभार जताया।

इस मौके पर समिति के पदाधिकारियों ने स्व. विधायक गोपाल रावत के चार धाम के हकहकूकधारियों के साथ खड़े रहने के लिये श्रद्धा सुमन भी अर्पित किए। समिति के अध्यक्ष रावल हरीश सेमवाल ने कहा कि गंगोत्री विधायक स्व. रावत देवस्थान बोर्ड के बनने के बाद से ही सरकार से इस कानून पर पुनर्विचार करने, हकहकूकधारियों के हितों को सर्वोपरि रखने की मांग करते रहे थे और उनके निधन के बाद श्रीमती रावत ने भी इस संबंध में लगातार सरकार को पत्र भेजकर कानून पर पुनर्विचार की मांग की। श्रीमती रावत ने कहा कि चार धाम करोड़ों हिन्दुओ के आस्था के केंद्र हैं और सदियों से परंपरा निभा रहे हकहकूकधारियों का ध्यान रखा जाना जरूरी था। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने सही निर्णय लेकर एक्ट को ही रद्द कर दिया लिहाजा अब इसकी कोई प्रासंगिकता ही नहीं रही।

इस मौके पर रावल सुधांशु सेमवाल, सचिव सुरेश सेमवाल, कोषाध्यक्ष महेश सेमवाल, मानेद्रल सेमवाल, वासुदेव सेमवाल, सचेन्द्र सेमवाल समेत अन्य मौजूद रहे।