उत्तरकाशी : गढ़वाली बोली में रामलीला की तीन दिवसीय कार्यशाला के दूसरे दिन की शुरुआत महंत काशी विश्वनाथ अजय पुरी ने की

  • संतोष साह

मनेरी में श्री आदर्श रामलीला समिति की गढ़वाली बोली में रामलीला कार्यशाला के तीसरे भाग के दूसरे दिन की शुरुआत काशी विश्वनाथ मंदिर के महंत अजय पुरी ने की। उन्होंने समिति के मार्गदर्शन और हौसलाफजाई करते हुए कार्यक्रम की प्रशंसा की और उम्मीद जाहिर की, कि यह कार्यक्रम भविष्य में गौरवशाली गढ़वाली भाषा के संरक्षण व संवर्धन में मील का पत्थर साबित होगी।

मनेरी के मानसरोवर होटल में यह कार्यक्रम सेवानिवृत्त सहायक सेनानी स्व.मान सिंह चौहान की स्मृति में उनकी धर्मपत्नी बलमा चौहान व उनके सुपत्र विजय चौहान की ओर से आयोजित किया जा रहा है। दूसरे दिन की कार्यशाला में विजय चौहान द्वारा अतिथियों का फूलमालाओं से स्वागत किया गया।

इस अवसर पर समिति के जयेंद्र सिंह पंवार, गजेंद्र मटूड़ा,ब्रह्मा नंद नौटियाल, भूपेश कुड़ियाल, अरविंद राणा,कैलाश सेमवाल, दिनेश नौटियाल, सुमन राणा,अरविंद राणा,रमेश चौहान, राधा कृष्ण नौटियाल, केशर सजवाण, कमल सिंह रावत,प्रताप सिंह रावत,अजय पंवार, माधव नौटियाल, महेंद्र पंवार, विक्रम शाह,बचन घलवान,गोविंद राम,रजत कुमार,मंगला राणा,राजवंती चौहान, प्रेम कांत सेमवाल, रजनेश कंसवाल,गजेंद्र प्रसाद भट्ट,पारस मणि भट्ट,शुभराज चौहान, सरदार सिंह गुंसाई, सुभाष कुमाई आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

You may have missed