जन-जन तक सर्वोत्तम स्वास्थ्य सेवाओं के लिए प्रदेश ने रचा नया इतिहास,नवीन प्रयोगशाला से स्वास्थ्य जांचें हुई अब और भी सुलभ

डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा/सनसनी सुराग न्यूज

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के द्वारा चयनित 1,200 विशेषज्ञ चिकित्सकों में से 310 विशेषज्ञ चिकित्सकों को आज नियुक्ति पत्र वितरण एवं15 जनपदों में BSL-2 प्रयोगशालाओं का लोकार्पण उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के कर कमलों द्वारा किया गया।इसी क्रम में जनपद शामली के विकासखंड कांधला के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ग्राम जसाला में स्थापित की गई BSL-2 प्रयोगशाला का माननीय मुख्यमंत्री जी उत्तर प्रदेश द्वारा वर्चुअल उद्घाटन किया गया।प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर एमएलसी वीरेंद्र सिंह, जिलाधिकारी जसजीत कौर,मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संजय अग्रवाल, एवं अन्य चिकित्सकों द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी के वर्चुअल संवाद को सुना गया।माननीय मुख्यमंत्री जी ने अपने संबोधन में प्रदेश के विभिन्न जनपदों के लिए नवनियुक्त चिकित्सकों को बधाई देते हुए कहा कि जिसकी तैनाती जहां पर हुई है,वह अपनी तैनाती स्थल पर प्रशासकीय सेवा के साथ अपने अनुभव का लाभ देते हुए आमजन के विश्वास के साथ जुड़ना है।माननीय मुख्यमंत्री जी ने अपने संबोधन में कहा कि कोरोना महामारी के समय कोरोना योद्धा के रूप में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बिना जान की परवाह करते हुए कार्य किया।प्रदेश के हर जनपद को ऑक्सीजन के लिए आत्मनिर्भर बनाया।मा0 मुख्यमंत्री जी ने अपने संबोधन में कहा कि प्रधानमंत्री जी द्वारा आयुष्मान भारत योजना प्रारम्भ की गई वहीं उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना को प्रारम्भ कर प्रत्येक जरूरतमंद व्यक्ति को ₹05 लाख सालाना स्वास्थ्य बीमा का कवर दिया है।

 

 

 

 

 

 

आयोजित कार्यक्रम के दौरान एमएलसी वीरेंद्र सिंह एवं जिलाधिकारी द्वारा केंद्र पर सैंपल कलेक्शन,डिकॉन्टेमिनेशन,आर0एन0ए0 एक्सट्रेक्सन,पी0 सी0आर0,कोल्ड रूम, स्टोरेज आदि कक्षों का निरीक्षण कर आवश्यक व्यवस्थाओं का जायजा लिया और संबंधित से आवश्यक जानकारी प्राप्त की गई।इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा जनपद में BSL-2 प्रयोगशाला की शुरुआत हो गई है जिसका उद्घाटन आज मुख्यमंत्री जी द्वारा किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जसाला पर BSL-2 प्रयोगशाला की शुरुआत होने से जनपद शामली के कोविड-19 आरटी पीसीआर सैंपल की जांच होगी और जल्द से जल्द परिणाम भी प्राप्त होगा।इससे पहले आरटी पीसीआर जांच हेतु सैंपल मेरठ भेजे जाते थे जिनमें दो से तीन दिन लग जाते थे।

आयोजित कार्यक्रम के अवसर पर अवसर पर सी0एम0ओ0शामली डॉ संजय अग्रवाल ए0सी0एम0ओ0 डॉक्टर जगमोहन नोडल अधिकारी बी0एस0एल0-2 लैब,डॉक्टर तिलक सिंह डी0पी0एम0 आशुतोष श्रीवास्तव उपस्तिथ रहे। सीएमओ के अनुसार लैब में दो नान मेडिकल साइंटिस्ट इकरा खान एवं विभा वर्मा के अलावा 03 प्रयोगसाला सहायक श्री राहुल चौहान,शिवा बिडला और रजत की पोस्टिंग की गई है।

Dr. Tilak Singh
Medical Officer CHC Jasala

 

You may have missed