उत्तरकाशी : आल वेदर पर सरकार से दुबारा सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करने की मांग

  • संतोष साह

आल वेदर में चार धाम यात्रा सडक की चौड़ाई कम करने के फैसले के खिलाफ उत्तरकाशी होटल एसोसिएशन ने डीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर सरकार की ओर से सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका लगाने की मांग की है। आल वेदर में सडक सिर्फ साढ़े पांच मीटर चौड़ी ही बनाये जाने के कोर्ट से केंद्र को मिले आदेश के बाद चार धाम रूट में रोष है। होटल एसोसिएशन से लेकर पर्यटन कारोबारियों में भी निराशा है।

होटल एसोसिएशन ने साफ किया है कि उत्तराखंड के अंदर ही वे तथकथित पर्यावरण के ठेकेदार, विकास विरोधी पर्यावरण के पैरोकार जो हर बार जब भी पहाड़ में विकास के कार्य 50 फीसदी से अधिक हो जाते है अपनी साजिश शुरू कर देते हैं और कोर्ट में पीआईएल दाखिल कर योजनाओं को ही रुकवाने का दवाब बनाते हैं।

यह भी तर्क संगत है कि जब हिमाचल, जम्मू-कश्मीर,लेह,लद्दाख,उतर पूर्व के हिमालयी राज्य में सड़के बन रही है तो उत्तराखंड में क्यों नहीं? होटल एसोसिएशन ने सरकार से मांग की है कि पूर्व के नोटिफिकेशन को ही आधार मानकर ही सुप्रीम कोर्ट ने जो साढ़े पाँच मीटर सडक का ही आदेश दिया है उस पर पुर्नविचार याचिका दायर करे। मौजूदा हालात और बढ़ते ट्रेफिक को देखते हुए कम से कम 7 मीटर चौड़ी सडक होनी चाहिए।

Leave a Reply