उत्तरकाशी : डुंडा ब्लॉक के गांव पटारा,ओल्या पहुंचे डीएम मयूर दीक्षित, चौपाल लगाकर सुनी दिक्कतें, हर संभव निस्तारण का दिया भरोसा

  • संतोष साह

डीएम मयूर दीक्षित बुधवार को विकास खंड डुंडा के पटारा व ओल्या गांव पहुंचे। उन्होंने राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पटारा व ओल्या गांव में चौपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। ग्रामीणों द्वारा नालू पानी से लिफ्ट पेयजल योजना के माध्यम से पटारा गांव को जोड़ने की प्रमुख मांग की गई। इसके अलावा सड़क,महिला समूहों के टैंकों का भुगतान, मनरेगा के 40 प्रतिशत भुगतान, दुबारा बीपीएल सर्वे समेत कई अन्य मांगे ग्रामीणों द्वारा उठाई गई। डीएम ने ग्रामीणों को आवश्वस्त किया कि जो समस्यांए ग्रामीणों द्वारा उजागर की गई हैं उनका हर सम्भव निस्तारण किया जाएगा।

डीएम ने उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया कि चौपाल में उठाई गई ज्वलंत समस्याओं का निराकरण समयान्तर्गत किया जाय। डीएम दीक्षित ने पटारा गांव में पानी की उपलब्धता के लिए जल जीवन मिशन के तहत पंपिंग योजना का शीघ्र आगणन बनाने के निर्देश जल संस्थान को दिये।उन्होंने पीएमजीएसवाई को मालना- पटारा सड़क मार्ग का डामरीकरण दिसम्बर तक पूर्ण करने के निर्देश दिए। मनरेगा के अंर्तगत निर्माण कार्यों को प्राथमिकता के तहत करने के भी निर्देश दिए।

डीएम ने ग्रामीणों को नए राशन कार्ड बनाने,विद्यालय में फर्नीचर, कम्प्यूटर लगाने के साथ ही शहीद स्मारक द्वार बनाने का भी भरोसा दिया। बाद में उन्होंने जल जीवन मिशन के अंर्तगत स्कूल में पेयजल संयोजन का भी निरीक्षण किया तथा स्कूली छात्राओं से भी बातचीत की।

इस दौरान ब्लॉक प्रमुख शैलेन्द्र कोहली,ग्राम प्रधान पूजा देवी,महिला समूह की अध्यक्ष सरतमा देवी, मंडल अध्यक्ष भाजपा दुर्गेश प्रसाद सिलवाल सहित खंड विकास अधिकारी दिनेशचंद्र जोशी,तहसीलदार व ग्रामीण उपस्थित थे।

You may have missed