उत्तरकाशी : डीएम दीक्षित ने स्थलीय निरीक्षण में योजनाओं का लिया जायजा,संबंधित अधिकारियों को भी मौके पर दिए निर्देश

  • संतोष साह

डीएम मयूर दीक्षित ने शनिवार को गांव स्यूणा ,नेताला,गंगोरी का स्थलीय निरीक्षण कर विभिन्न योजनाओं का भी जायजा लिया और मौके पर मौजूद अधिकारियों को भी निर्देश दिए। स्यूणा में लघु सिंचाई के 5 किलोवाट वाटर सोलर पंप का निरीक्षण करने के बाद डीएम ने इसकी देखरेख के लिये गांव की एक समिति बनाने का सुझाव दिया। जंगली जानवरों से फसल बचाने के लिये घेरबाड व पॉलीहाउस बनाने के निर्देश उन्होंने मुख्य कृषि अधिकारी को दिए। डीएम ने सोलर पंप से सिंचाई को लेकर अधिशासी अभियंता लघु सिंचाई को और भी प्रोजेक्ट लगाने के लिये प्रस्ताव सम्मिलित करने के निर्देश दिये। ग्रामीणों द्वारा ट्राली को हस्तचालित के स्थान पर स्वचालित करने को लेकर डीएम ने आश्वासन दिया। डीएम ने गंगोरी में मत्स्य पालन केंद्र का भी निरीक्षण किया। उन्होंने मत्स्य निरीक्षक को मत्स्य पालन परिसर के बेहतर सौंदर्यीकरण करने के निर्देश दिये ताकि इससे पर्यटन को भी बढ़ावा मिल सके। उधर डीएम ने नेताला में एएनएम सेंटर,मातृत्व शिशु केंद्र का भी निरीक्षण किया। उन्होंने उक्त केंद्रों में समुचित व्यवस्था दुरुस्त करने के सीएमओ को निर्देश दिये। उन्होंने उद्यान विभाग के टिशू कल्चर लैब का भी निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान ई ई लघु सिंचाई वी.के.गुप्ता,मुख्य कृषि अधिकारी गोपाल भंडारी, मत्स्य निरीक्षक विशेश्वर प्रसाद आदि भी उपस्थित रहे।
इधर डीएम दीक्षित ने कहा कि मुख्यमंत्री की प्रेरणा से स्वरोजगार को बढ़ावा देने व किसानों की आय दोगुनी करने हेतु इस वर्ष जिला योजना में किसान हित मे अनेक कार्य किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि टिशू कल्चर लैब से किसानों को उन्नत किस्म के पौधे मिलेंगे तो वही सोलर पंप से सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में स्यूणा गांव में 6 हेक्टेयर खेती सोलर पंप से सिंचित हो रही है।

Leave a Reply

You may have missed