उत्तरकाशी : डीएम ने देर रात जिला चिकित्सालय का किया औचक निरीक्षण, इमरजेंसी व महिला चिकित्सालय में 24 घंटे गार्ड तैनाती के दिये निर्देश

  • संतोष साह

डीएम मयूर दीक्षित ने बुधवार देर रात करीब 12.30 बजे जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को देखा और महिला चिकित्सालय का भी निरीक्षण किया। उन्होंने उपस्थित महिला डॉक्टर्स से प्रसव के लिए भर्ती महिलाओं की जानकारी ली। डॉक्टर्स द्वारा बताया गया कि वर्तमान में 7 गर्भवती महिलाओं का प्रसव होना है, जिन्हें वार्ड में भर्ती किया गया है। 6 गर्भवती महिलाओं का ऑपरेशन के द्वारा प्रसव किया गया, सभी के जच्चा-बच्चा स्वस्थ है।

डीएम ने गर्भवती महिलाओं व नवजात शिशुओं का नियमित स्वास्थ्य परीक्षण करने के निर्देश दिए। डीएम ने एमरजेंसी वार्ड भी पहुंचे जहां एक महिला डॉक्टर्स तैनात मिली। डीएम ने ऑक्सीजन प्लांट को भी देखा जहां सुरक्षा के दृष्टिगत कोई गार्ड मौजूद नही था। इसके अतिरिक्त मुख्य गेट के साथ लगी स्ट्रीट लाइटें बन्द पड़ी मिली। डीएम ने मेडिकल बेस्ट के निस्तारण व चिकित्सालय की स्वच्छता को भी देखा। ब्लड बैंक के निरीक्षण के दौरान डीएम ने नेगेटिव ब्लड के बारे में जानकारी ली। वहां मौजूद लैब टेक्नीशियन द्वारा बताया गया कि नेगेटिव ब्लड के लिए डोनर का एक ग्रुप बनाया गया है।

जरूरत पड़ने पर फोन करके डोनर को बुलाया जाता है। इस बीच उन्होंने ब्लड रखने के लिए दो बड़े डी फ्रिज की भी मांग की,जिस पर डीएम ने ब्लड बैंक में डी फ्रिज क्रय करने हेतु पत्रावली प्रस्तुत करने के निर्देश सीएमएस को दिए। स्ट्रीट लाइट को तत्काल ठीक कराने व सुरक्षा के दृष्टिगत ऑक्सीजन प्लांट के साथ ही ईमरजेंसी एवं महिला चिकित्सालय में 24×7 गार्ड तैनात करने के निर्देश दिए। उन्होंने चिकित्सालय को स्वच्छ रखने के लिए कूड़ेदान लगाने तथा आपातकालीन चैनल गेट के स्थान पर आधुनिक सेंसर वाला गेट लगाने के निर्देश दिए ताकि एमरजेंसी में गम्भीर मरीज को लाने ले जाने में कोई समस्या न आ सकें।
उधर इससे पूर्व डीएम ने जिला आपातकालीन परिचालन केंद्र व कोविड वॉररूम का भी निरीक्षण किया। जिला आपातकालीन परिचालन केंद्र में बंद सड़क मार्गों की स्थिति के बारे में जानकारी ली। चिन्यालीसौड़-जोगत मोटर मार्ग,गड़वाल गाड़ मोटर मार्ग व सरास ओडाठा मोटर मार्ग के जेसीबी ऑपरेटरों को कंट्रोल रूम से फोन कराया गया तथा सड़क मार्ग कब तक बहाल होगा कि जानकारी ली गई। निरीक्षण के दौरान डीएम ने आपदा कंट्रोल रूम व कोविड-19 वाररूम में रात्रि डयूटी में तैनात कार्मिकों की उपस्थिति पंजिका का भी अवलोकन किया।

You may have missed