उत्तरकाशी : वनाग्नि रोकने के लिये महत्वपूर्ण बैठक,डीएम ने वनाग्नि रोकने संबंधी जरूरी निर्देश दिए

  • संतोष साह

डीएम मयूर दीक्षित ने वनाग्नि की रोकथाम के लिये अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए। उन्होंने वनों में आग न लगे इसको लेकर वन पंचायतों,ग्राम प्रधानों को भी साथ लेकर वन अधिकारियों को विचार विमर्श के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जंगलों में आग लगाने वालों के खिलाफ भारतीय वन अधिनियम व आपदा एक्ट के तहत कार्यवाही को भी कहा साथ ही इसके लिये उन्होंने वनों में आग रोकने के लिये स्काट टीम बनाये जाने को कहा ताकि आग लगाने वालों पर कड़ी नजर रखी जा सके।
डीएम ने सभी वन अधिकारियों को निर्देश दिए कि सड़कों में पड़ी पिरूल को हटवाएं। उन्होंने सड़क के अधिकारियों से कहा कि जिन स्थानों में कार्य हो रहा है वहाँ मजदूर खाना बनाने के उपरांत आग बुझाए। उन्होंने वन विभाग, आपदा प्रबंधन,पुलिस, फायर सर्विस आदि विभाग से आपसी समन्वय बनाकर वनाग्नि रोकने के लिये मुस्तेदी से कार्य करने को भी कहा। उन्होंने कहा कि वन, पुलिस, ग्राम प्रधान,ग्राम पंचायत अधिकारी, राजस्व अधिकारी, ग्राम प्रहरी आदि भी संयुक्त रूप से समन्वय स्थापित करें और वनाग्नि की सूचना तुरंत आपदा कंट्रोल रूम में देना सुनिश्चित करें। उन्होंने क्रू स्टेशन में तैनात कर्मियों से महिला मंगल दल व ग्राम स्तर के प्रतिनिधियों के फोन नंबर भी रखने को कहा ताकि वनाग्नि नियंत्रण में उनकी मदद ली जा सके। उन्होंने वन समेत अन्य सुरक्षा के इंतजामों को 24 घंटे अलर्ट में रहने को भी कहा। इस बैठक में डीएफओ संदीप कुमार समेत अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।

Leave a Reply

You may have missed