उत्तरकाशी : शीतकाल व विधानसभा चुनाव के दृष्टिगत डीएम दीक्षित ने आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित किये जाने को अधिकारियो की ली बैठक

 

  • संतोष साह

 

विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 एवं जनपद में शीत ऋतु के दृष्टिगत आवश्यक व्यवस्थायें सुनिश्चित किए जाने को लेकर डीएम व जिला निर्वाचन अधिकारी मयूर दीक्षित ने अधिकारियों की महत्वपूर्ण बैठक ली। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि जनपद में ऐसे मतदेय स्थल जहां नेटवर्क कनेक्टिविटी नही है वहां अभी से वायरलेस, बेस सेट, वाकी-टॉकी की व्यवस्था सुनिश्चित की जाय। इस हेतु पुलिस,वन विभाग के साथ बूथबार प्लान बनाने के निर्देश सभी आरओ को दिए। इसके अतिरिक्त निर्वाचन आयोग के निर्देशों के क्रम में प्रत्येक विधान सभा में 50 प्रतिशत बूथों पर वेब कास्टिंग की जानी है। इस हेतु जिला निर्वाचन अधिकारी ने वेब कास्टिंग बूथ व हिमाच्छादित मतदेय स्थलों का प्लान बनाकर सभी आवश्यक संसाधन व व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश सभी आरओ को दिए। जिला निर्वाचन अधिकारी ने वरनेवल व क्रिटिकल बूथों का चिन्हीकरण करने व सभी मतेदय स्थलों में शौचालय, पानी, रेम्प की व्यवस्था सुनिश्चित करने तथा निर्वाचन के दौरान राजनीतिक दलों द्वारा आयोजित की जाने वाली रैलियों के लिए कोविड प्रोटोकॉल के तहत मैदानों का चिन्हीकरण करने के निर्देश सभी रिटर्निंग ऑफिसरों को दिए। इसके अतिरिक्त कंट्रोल रूम स्थापित कर 1950 हेल्पलाइन नम्बर को चालू रखने के निर्देश दिए।

उधर शीत ऋतु की बैठक लेते हुए डीएम ने राष्ट्रीय राजमार्गों व अन्य ग्रामीण यातायात मार्गों के भूस्खलन से संवेदनशील,बर्फबारी व पाला पड़ने वाले स्थानों में पर्याप्त संसाधन,चूना,नमक व मशीनरी मौजूद रखने के निर्देश दिए। बर्फबारी से विद्युत व पेयजल योजनाएं बाधित होने वाले क्षेत्रों में आवश्यक व्यवस्था करने के साथ ही पुख्ता तैयारी करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने बारिश से प्रभावित क्षेत्रों में संचार सुविधा उपलब्ध कराए जाने के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए। बर्फबारी से प्रभावित क्षेत्रों में आपात स्थिति हेतु स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराए जाने के संबंध में तथा क्षेत्र में निवासरत गर्भवती महिलाओं की सूची व उपचार दिए जाने के संबंध में प्लान तैयार करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिए। बर्फबारी प्रभावित क्षेत्रों में खाद्यान्न की आपूर्ति समय से करने के निर्देश जिला पूर्ति अधिकारी को दिए। शीत लहर के बचाव हेतु अलाव जलाये जाने हेतु जलाऊ लकड़ी एवं रेन बसेरों व असहाय, गृहविहिन,मानसिक रूप से बीमार व्यक्तियों व भिखारियों आदि को ठंड के प्रकोप से बचने हेतु गर्म कंबल वितरण करने व आवश्यक सुविधा जुटाने के निर्देश दिए। उन्होंने तहसील मोरी, पुरोला के दूरस्थ ग्रामों में अग्निशमन के कंट्रोल रूम को कार्यशील रखे जाने,उच्च हिमालयी क्षेत्रों में आवाजाही व जनपद के वन क्षेत्र अंतर्गत व अन्य ट्रैक रूटों पर बर्फबारी के दृष्टिगत ट्रैकिंग दलों की सुरक्षा के संबध में व उच्च हिमालय क्षेत्रों पुराने अंवलाच घटित क्षेत्रों में अत्यधिक सतर्कता रखने व आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए।

बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी तीर्थपाल सिंह,रिटर्निंग ऑफिसर गंगोत्री विधान सभा चतर सिंह चौहान, यमुनोत्री मीनाक्षी पटवाल,पुरोला सोहन सैनी,एसडीएम बड़कोट शालिनी नेगी,अधिशासी अभियंता लोनिवि परवीन कुश,जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी देवेंद्र पटवाल, सहायक निर्वाचन अधिकारी अरुणेश पैन्यूली सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।