उत्तरकाशी : डीएम मयूर दीक्षित के आपदा प्रबंधन को लेकर मॉनिटरिंग व कार्य की आपदा प्रभावितों ने की तारीफ,बेहतर डीएम बताया

  • संतोष साह

आपदा प्रभावितों ने जिले के डीएम मयूर दीक्षित की आपदा प्रबंधन को लेकर तारीफ की है। मांडों गांव के ग्राम प्रधान से लेकर बुजुर्गों, महिलाओं व युवाओं ने जिस तरह से आपदा आने के बाद गांव में युद्ध स्तर से राहत व बचाव के कार्य हो रहे हैं उसको लेकर डीएम की आपदा प्रबंधन को लेकर मॉनिटरिंग व कार्यों को सराहा है।

खासकर आपदा प्रभावित गांव के लोग डीएम को बार-बार अपने बीच पाकर और उनके दिशा निर्देशों को लेकर खुश हैं। मांडों गांव के प्रधान धीरेंद्र चौहान का कहना है कि आपदा आने के बाद से प्रशासन लगातार उनके साथ है। प्रधान का कहना है कि तबाही के दौरान रात्रि में डेड बॉडी खोज निकालने से लेकर राहत व बचाव में पूरा प्रशासनिक अमला गांव के साथ रहा। उन्होंने बताया कि गांव में बिजली ,खाद्यान की व्यवस्था दुरुस्त है।

रास्ते बनाये जाने,मलवा हटाये जाने के लिये मशीनें लगातार कार्य कर रही हैं।गांव के सोमवारी भट्ट ने डीएम के कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि डीएम लगातार गांव के संपर्क में हैं और आपदा प्रभावितों की हर समस्या का निदान कर रहे हैं। गांव के बुजुर्ग दुर्गेश भट्ट ने भी आपदा आने के बाद से जिस तरह प्रशासन को रात-दिन गांव में चुस्त-दुरुस्त देखा उसको लेकर उन्होंने डीएम के कार्य व दिशा निर्देशों की तारीफ की। इसके अलावा गांव के कई अन्य प्रभावितों ने जिस तरह गांव में राहत,बचाव,खाद्यान व मूलभूत संसाधनों को लेकर कार्य किये जा रहे हैं उसके लिये जिला प्रशासन और उन सभी अधिकारियों का शुक्रिया किया है जो यहाँ व्यवस्था के लिये मुस्तेदी से कार्य मे जुटे हैं।

You may have missed