उत्तरकाशी : जिला,राज्य व केंद्र पोषित योजनाओं की डीएम ने की समीक्षा,एक को प्रतिकूल प्रविष्टि तो एक के वेतन रोकने के निर्देश 

 

  • संतोष साह

 

डीएम मयूर दीक्षित ने जिला सेक्टर,राज्य सेक्टर,केंद्र पोषित,वाह्य सहायतित योजनाओं की समीक्षा की। डीएम ने कार्यदायी संस्थाओं को निर्माण कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला योजना में बचनबद्ध मद को छोड़कर विकासात्मक कार्यों के लिए आवंटित धनराशि को नवम्बर तक व्यय करने के निर्देश दिए।उन्होंने निर्माण कार्यों में तेजी लाने के साथ ही गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए साथ ही निर्माण कार्यों की फोटोग्राफ्स भी उपलब्ध कराने को कहा। उन्होंने हर्षिल में हर्षिल लेक सहित अन्य निर्माण कार्यों में भी तेजी लाने के निर्देश दिए। समीक्षा के दौरान डीएम ने ग्राम्य विकास विभाग में सेवारत सहायक संख्याधिकारी के द्वारा ग्रामीण आजीविका मिशन से सम्बंधित रिपोर्ट प्रस्तुत नही करने पर अक्टूबर माह का वेतन रोकने के निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिए तो वहीं अर्थ एवं संख्या विभाग में कार्यरत अपर संख्याधिकारी द्वारा बीस सूत्रीय कार्यक्रम की रिपोर्ट तैयार नही करने पर प्रतिकूल प्रविष्टि देने के निर्देश भी दिए।

डीएम ने कहा कि जिला योजना में 53 करोड़ 50 लाख परिव्यय के सापेक्ष शासन से अवमुक्त धनराशि 38 करोड़ 28 लाख विभागों को शत-प्रतिशत आवंटित की गई है। जिला योजना में विकासात्मक कार्यों सहित करीब 73 फीसदी धनराशि खर्च की जा चुकी है।

बैठक में डीएफओ पुनीत तोमर,मुख्य विकास अधिकारी गौरव कुमार,सीएमओ डॉ. के.एस.चौहान, परियोजना निदेशक संजय सिंह,सीएचओ डॉ रजनीश सिंह, अधिशासी अभियंता लोनिवि प्रवीण कुश समेत अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

You may have missed