उत्तरकशी : जिले में कोरोना के बढ़ते ग्राफ से चिंता बढ़ी,अब नए डीएम के लिये भी जिले में कोविड-19 सबसे बड़ी चुनौती होगी

  • संतोष साह

जिले में कोरोना का लगातार ग्राफ बढ़ रहा है। पब्लिक में चिंता बढ़ी है तो प्रशासन की भी नींद हराम है। कोविड-19 संक्रमण से कैसे बचा जाए और जिले में इसमे नियंत्रण कैसे होगा यह अब सबसे बड़ी चुनौती सामने आने लगी है। आपदा के इस संकट में शासन ने जिले में डीएम बदले हैं।

नए डीएम के समक्ष यह सबसे बड़ी चुनौती होगी कि पहाड़ के जिले में कोरोना को कैसे रोका जाय और इसके लिये ऐसे कौन से कदम उठाये जाय जिससे कि कोरोना पर लगाम लगे। गौरतलब है कि पूर्व डीएम ने कोरोना संक्रमण पर ऐतिहाती कदम उठाने के लिये अपनी सूझ व समझ से नोडल की टीम बनाई थी जो कोरोना पर नजर रखती थी। इस बीच अब नए डीएम पहुंचेंगे स्वाभाविक है कि वे कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ को लेकर अपने स्तर से सिस्टम सेटअप करने के साथ ही व्यवस्था को अंजाम देंगे। उनके समक्ष भी कोरोना संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी किसी चुनौती से कम नहीं होगी।
गौरतलब है कि शनिवार को जिले में एक साथ 17 कोरोना केस आना आने वाले समय के लिये अच्छे संकेत नहीं दे रहा है। कोरोना कहाँ से बंट रहा है और कैसे बंटते जा रहा है यह गंभीर सवाल है। अब देखना होगा कि नए डीएम की नई टीम कोरोना से निपटने में क्या कुछ कदम उठाती है।

Leave a Reply

You may have missed