तीन दिन में तैनाती स्थल में न दिखे तो तीनों स्वास्थ्य कर्मियों के खिलाफ सीएमओ ऑफिस में धरना,प्रदर्शन

  • संतोष साह

डीएम पिथौरागढ़ डॉ. विजय कुमार जॉगदंडे के कड़े निर्देश के बाद भी तीन स्वास्थ्य कर्मियों के अपने तैनाती स्थल में तैनात न होने और जिला मुख्यालय में ही जमे रहने के खिलाफ जिला पंचायत सदस्य जगत मर्तोलिया ने हल्ला बोला है।

उन्होंने कहा कि यदि तीन दिन के भीतर तीनो स्वास्थ्य कर्मी अपनी तैनाती स्थल पर नही पहुंचे तो सीएमओ दफ्तर के आगे धरना व प्रदर्शन शुरू कर दिया जाएगा। जिला पंचायत सदस्य ने एसडीएम मुनस्यारी को भी पत्र लिखकर तीनो स्वास्थ्य कर्मियों की उपस्थिति के समस्त दस्तावेज सील कर कड़ी कार्यवाही की मांग की है।

जिला पंचायत सदस्य  मर्तोलिया ने बताया कि पिछले दिनों तीन स्वास्थ्य कर्मियों के अपने मूल तैनाती स्थल में तैनात न रहते हुए जिला मुख्यालय में बने रहने की शिकायत डीएम पिथौरागढ़ से की थी जिस पर डीएम ने सीएमओ को इस पर तत्काल कार्यवाही के लिये निर्देश दिए थे। जिस पर सीएमओ ने तीनों कर्मियों को तैनाती स्थल पर जाने के आदेश जारी किये थे।

जिला पंचायत सदस्य ने कहा कि इनको न डीएम का खौफ है औऱ न ही अपने अधिकारियों का डर। जिला पंचायत सदस्य ने बताया कि जुलाई 2019 को नवल चौधरी का
मुनस्यारी,योगेंद्र वोहरा का तेजम व राजेश्वरी वर्मा की मदकोट सीएचसी में तैनाती हुई थी। तीनो लिपिक के पद पर है और इन तीनो ने नियम को ताक पर रखकर अपने को सीएमओ ऑफिस में अटैच करवाया है।  मर्तोलिया ने कहा कि इस काल खंड में इनकी उपस्थिति कहाँ हुई और किस अधिकारी ने इनकी हाजरी को प्रमाणित किया यह भी एक बहुत बड़ा सवाल निकल कर बाहर आ रहा है।

Leave a Reply

You may have missed