बीआरओ का सीमेंट गुपचुप नेपाल भेजे जाने की जांच शुरू,जिला पंचायत की बैठक में भी उठा मामला

  • संतोष साह

बी.आर.ओ.का सीमेंट नेपाल भेजे जाने के मामले की जांच शुरु हो गई है। उधर पिथौरागढ़ जिला पंचायत की बैठक में यह मामला जोरदार ढंग से उठने के बाद डीएम ने कहा कि तीन दिन के भीतर प्रशासन की रिर्पोट उनके पास आ जाएगी। गौरतलब है कि
तवाघाट से लिपूलेख तक बने मोटर मार्ग की कार्यदायी संस्था बी.आर.ओ. का सीमेंट बूंदी के निकट से नेपाल बेचने का एक वीडियो पिछले दिनों वालरल हुआ था। वीडियो वायरल होने से बी.आर.ओ.में हडकंप मच गया था। जिला पंचायत की बैठक में सदस्य जगत मर्तोलिया के अनुरोध पर पहली बार बी.आर.ओ.के कमान अधिकारी सहित तीन ओसी को आठ जुलाई की बैठक में बुलाया गया था मगर इनमें से एक भी बैठक में नहीं आया तो सभी को अनुपस्थित रहने पर कारण बताओ नोटिस जिला पंचायत से जारी किया गया है।
जिला पंचायत की बैठक में इस मामले को उठाते हुए श्री मर्तोलिया ने कहा कि उनके पास इसके वायरल वीडियो के बाद चार सीमेंट व डीजल चोरी के वीडियो आ गए है। जिसे वे डीएम को संज्ञान लेने के लिए दे रहे है।
उधर जिला प्रशासन ने इस मामले को गंभीरता से लिया है तो वहीं
जिपं सदस्य श्री मर्तोलिया ने कहा कि सीमांत की जनता अब चुप नहीं रहने वाली है। इस मामले को दबाया गया तो सीमांत में बी.आर.ओ.के खिलाफ़ आंदोलन तेज किया जायेगा।

You may have missed