उत्तरकाशी : देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड निरस्त होने का सनातन दिव्य मंडल व गंगा दशहरा महोत्सव समिति ने किया स्वागत

 

  • संतोष साह

 

उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड को भंग किये जाने के फैसले का अखिल भारतीय सनातन दिव्य सद्भभाव संस्थान एवं श्री गंगा दशहरा महोत्सव समिति ने हर्ष व्यक्त करते हुए इस कदम का स्वागत किया है। गंगा दशहरा महोत्सव समिति के संस्थापक आचार्य मानस प्रेमी ने कहा है कि ‌ राष्ट्रीय स्तर पर सनातन धर्म के मठ,मन्दिरों,धामों को सरकार के नियंत्रण से मुक्त करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस दिन से सनातन विरोधी एक्ट बना उसी दिन ‌से रावल,तीर्थ पुरोहित, हक-हकूकधारियों एवं सनातन दिव्य सद्भभाव संस्थान (मण्डल) तथा श्री गंगा दशहरा महोत्सव समिति ने विरोध किया उनका यह भी कहना था कि सनातन धर्म के मठ, मन्दिरों,धामों पर सरकार की गिद्ध दृष्टि रहती है जबकि मस्जिद, दरगाह,चर्च का कहीं एक्ट नहीं है।