उत्तरकाशी : आल वेदर निर्माण के दौरान भूस्खलन को रोकने व मलवे को पैक करने के लिये अमरीकन तकनीक से हरियाली

  • संतोष साह

गंगोत्री राजमार्ग में आल वेदर निर्माण के दौरान भूस्खलन का मलवा गंगा में न गिरे इसके लिये अमरीकी तकनीक से स्लाइड जोन में घास उगाई जा रही है। घास का बीज भी अमेरिका का ही है। भूस्खलन इलाके में ढलानदार व वर्टिकल पहाड़ी पर यह कार्य किया जा रहा है।

वर्तमान में धरासू के समीप भूस्खलन की रोकथाम और मलवा गंगा में न गिरे इसके लिये अमेरिकन तकनीक से घास उगाई जा रही है। गंगा विचार मंच के प्रदेश संयोजक व निदेशक जीएमवीएन लोकेंद्र बिष्ट ने बताया कि स्टोनफिल कंस्ट्रक्शन कंपनी इस कार्य को कर रही है। जिसके साइट इंजीनयर उस्मान अली द्वारा बताया गया कि इस तकनीक में एंकरिंग,सीमेंट,केमिकल, क्वायर मेट,जाल,आयरन प्लेट व नट बोल्ट का प्रयोग कर ढलान में वनस्पतियों को उगाने के कार्य सफलता से किया जाता है।

बिष्ट ने कहा कि देश व दुनिया के श्रद्धालु व पर्यटक चार धाम में वर्ष भर आ सकें इसके लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड को चार धाम आल वेदर का तोहफा दिया साथ ही गंगा की स्वच्छता व निर्मलता के लिये नमामि गंगे परियोजना।

Leave a Reply

You may have missed