उत्तरकाशी : असहाय व बेसहारा की मदद को आगे आये पालिकाध्यक्ष,घर वापसी का किराया भी किया वहन

 

 

  • संतोष साह

 

बीती रात ज्ञानसू बैंड के समीप दो लोगों को रात्रि में ठंड से बचाने और उनकी रहने-खाने की व्यवस्था को लेकर पालिकाध्यक्ष ने नेकदिली का कार्य किया जबकि वे स्टेशन से बाहर थे। पालिकाध्यक्ष के सलाहकार सुनील कुमार मौर्य ने बताया कि

बीती रात तकरीबन 9 बजे वे जब अपने काम से घर वापस लौटे उन्हें घर के नीचे एक पिता और उसके सात वर्षीय बेटे को देख मन मे कई सवाल उठे की इतनी सर्दी में ये दोनों यहां क्या कर रहे है? पूछने पर पता चला कि उक्त दोनों गोनाग ब्रह्मखाल के रहने वाले है जो किसी काम से उत्तरकाशी आये थे। बेटे ने पिता से जिद्द की उत्तरकाशी चलने के लिए तो पिता ने उसे रोता देख मजबूरन उसे अपने साथ लाना पड़ा। लेकिन यहां जिससे मिलना था न तो उसका पता उनके पास था और न उसके रहने की जगह। जिस वजह से दोनो बेसहारा ओर असहाय थे। उक्त दोनों को देख और मामला सुन उन्होंने पालिकाध्यक्ष रमेश सेमवाल को दूरभाष से जानकारी दी। जिसके बाद पालिका अध्यक्ष ने बेटा ओर पिता दोनो की सोने- खाने, घर वापस जाने का किराया देकर दोनो को ठंड में भूखे पेट रहने को मजबूर न हों इसकी मदद की।