बैंड बाजों के साथ निकाली राम बरात

विशाल भटनागर /सनसनी सुराग न्यूज

बैंड बाजों के साथ निकाली राम बरात

कैराना। नगर में धुमधाम से बैंड बाजो के साथ श्रीराम बारात निकाली गई।
बुधवार को शाम करीब 6 बजे गौशाला भवन से श्रीराम बारात निकाली गई। श्रीराम बारात में रथ पर श्रीराम, लक्ष्मण, भरत व शत्रुघन सवार थे। इसके अलावा पवनपुत्र हनुमान, शिव पार्वती, राधा कृष्ण की सुन्दर सुन्दर झाकिया श्रीराम बारात की शोभा बढा रही थी। श्रद्धालू बैंड बाजो की भक्ति भरी धुनो पर झुम रहे थे। श्रीराम बारात चौक बाजार, जोडिया कुआ, सराफा बाजार, पटटो वाला, मौहल्ला गुंबद, शामली स्टैण्ड होेते हुए गौशाला भवन पर जाकर सम्पन्न हुई। इस अवसर पर सुरक्षा के मददेनजर पुलिस के जवान मौजूद रहे।

फोटो

 

तोड़ा धनुष, राम सीता का हुआ विवाह

कस्बे में चल रही रामलीला के मंचन में भारी भीड़ उमड़ रही है रामलीला के सातवें दिन श्री रामचंद्र जी विशेष पूजा अर्चना करने हेतु पुष्प वाटिका पहुंच जाते है, प्रथम दृश्य दिखाया गया कि भगवान रामचंद्र जी पुष्प वाटिका में पूजा अर्चना के लिए पुष्प और फल एकत्रित करने के लिए आते हैं इसी दौरान जनकपुरी के राजा जनक की पुत्री सीता जी भी अपनी सखियों के साथ दुर्गा माता की पूजा अर्चना करने के लिए वहां पहुंच जाती है भगवान राम और सीता जी एक दूसरे को देख कर मन ही मन बेहद प्रसन्न होते हैं और इसी बीच माता- सीता को याद आता है कि कि एक बार दुर्गा माता द्वारा आशीर्वाद दिया था तुम्हें अपने पतिदेव के दर्शन इसी पुष्प वाटिका में होंगे और शायद वह दिन आज आ गया है, आशीर्वाद प्राप्त होने के बाद माता सीता बहुत प्रसन्न होती हैं। तभी राजा जनक अपनी पुत्री सीता के स्वयंवर की मुनादी कराने का आदेश अपने मंत्री को देते हैं जिस पर मुनादी करने वाला जनकपुरी और देश के अन्य राज्यों में मुनादी करता है कि महाराजा जनक की पुत्री सीता का विवाह उस राजकुमार से होगा जो भगवान शंकर पिनाक नामक शम्भू चाप पर स्वयंवर के दौरान चीला चढ़ाएगा वही सीता जी का पति कहलाएगा वही दृश्य दिखाया गया कि महाराजा जनक अपनी पुत्री का स्वयंवर रचाते हैं जिसमें बहुत सारे राजा योद्धा महाराजा राजकुमार शंभु चाप पर चिल्ला चढ़ाने के लिए आते हैं परंतु चिल्ला नहीं चढा पाते हैं इसी दौरान लंका का राजा रावण भी शंभु चाप पर चीला चढ़ाने के लिए आता है परंतु वह भी धोखे का शिकार होकर इस प्रयास में विफल हो जाते है । लेकिन अयोध्या के राजा दशरथ के पुत्र राजकुमार राम और लक्ष्मण जी भी गुरु विश्वामित्र के साथ सीता स्वयंवर में पहुंचते हैं जब जनक को यह पता लगता है कि कोई भी योद्धा चिल्ला नहीं चढ़ा पा रहा है तो वह बेहद हताश होता है जिस पर लक्ष्मण जी को क्रोध आ जाता है और वह जनक जी को खरी-खोटी सुना देते हैं जिस पर गुरु विश्वामित्र जी लक्ष्मण जी को शांत करते हुए रामचंद्र जी को आदेश देते हैं कि इस नेक कार्य को आप ही करें इस पर भगवान राम शंभू चाप पर चीला चढा देते हैं और माता जानकी भगवान राम को वरमाला पहनाकर राजा जनक के परण को पूर्ण करती है जब शंभु चाप पर चिल्ला चढ़ाने की जानकारी परशुराम जी को होती है तो महर्षि परशुराम सीता स्वयंवर में पहुंच जाते हैं और क्रोधित होकर जनक से पूछते हैं कि शंभु चाप पर चीला किसने चढ़ाया है तो जनक पूरा वृतांत बताते हैं वही लक्ष्मण जी परशुराम जी की मजाक ले लेते हैं तो क्रोधित परशुराम भगवान राम और लक्ष्मण पर अपनी फरसा से वार करने का प्रयास करते हैं परंतु उनकी सरसा नहीं चल पाती है जिस पर वह समझ जाते हैं कि आज फरसा न चलने का कारण यही है कि पृथ्वी पर नारायण भगवान ने अपना दूसरा अवतार लिया है और वह भगवान रामचंद्र जी से क्षमा मांगते हुए अपना दोष मानते हैं कार्यक्रम के दौरान राम का अभिनय सतीश प्रजापत, लक्ष्मण का अभिनय राकेश, प्रजापत सीता का अभिनय शिवम गोयल, सखियों का अभिनय सागर मित्तल ,रोहित, नामदेव सनी धीरू ,जनक का अभिनय ऋषि पाल, शेरवाल, राजाओं का अभिनय अमन, वासु मित्तल, राकेश सप्रेटा, अरविंद मित्तल ,रावण का अभिनय शगुन मित्तल, विश्वामित्र का अभिनय आशु गर्ग, परशुराम का अभिनय नवीन शर्मा ,गुड्डू दुर्गा माता का अभिनय बाल कन्या कनक मित्तल रिद्धि गोयल पूर्वी सिंघल ने किया

 

कैराना । अमावस्या के समापन के साथ दुर्गापूजा की शुरुआत हो गई। जहां बाजारों में चुन्नी नारियल एवं दुर्गा की प्रतिमा की खरीदारी शुरू की गई वही मंदिरों को भी दुल्हन की तरह सजाया गया है । बुधवार को अमावस्या के अवसर पर उत्तर प्रदेश हरियाणा सीमा पर स्थित यमुना नदी एवं तलाबों के पास लोग अपने पितरों को तर्पण करते दिखें। इतना ही नहीं यमुना नदी पर श्रद्धालुओं द्वारा स्नान भी किया गया इस अवसर दस दिवसीय दुर्गा पूजा का आरंभ हो गया। मान्यता है कि महालया के साथ जहां श्राद्ध पक्ष खत्म होते हैं। इसी दिन मां दुर्गा कैलाश पर्वत से धरती पर आगमन कर अगले 10 दिनों के लिए वास करती हैं। 10 दिवसीय दुर्गा पूजा धूमधाम से मनायी जाती है, उधर बुधवार को कैराना के चौक बाजार, जुड़वा कुआं बेगमपुरा बाजार आदि में दुकानों को दुल्हन की तरह सजाया गया जहां श्रद्धालुओं द्वारा नारियल चुनरी मिश्रित फल आदि की जमकर खरीदारी की गई वही नगर के प्रसिद्ध देवी मंदिर में साफ सफाई एवं प्रकाश लाइटों के साथ मंदिर को सजाया गया है।

 

 

पंजाब के मुख्यमंत्री के प्रदेश के अंदर प्रवेश करने पर रोक ,पुलिस ने चलाया चेकिंग अभियान

कैराना। उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुए बवाल के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री के लखीमपुर खीरी पहुंचने की सूचना पर स्थानीय पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड़ पर नजर आई पुलिस ने हरियाणा की ओर से आने वाले वाहनों को रोक कर चेकिंग अभियान किया
मंगलवार की देर रात जैसे ही पुलिस को सूचना मिली की पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी एवं उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा उत्तर प्रदेश एवं हरियाणा बॉर्डर पर स्थित कैराना को होकर लखीमपुर खीरी जा सकते हैं। इसी सूचना पर पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर नजर आया और पानीपत खटीमा राजमार्ग स्थित यमुना ब्रिज चौकी पर पुलिस ने बैरिकेडिंग लगाकर हरियाणा की ओर से आने वाले वाहनों को रोककर चेकिंग अभियान चलाया पुलिस का यह अभियान देर रात्रि लगभग 3 बजे तक चला। हालांकि पंजाब के मुख्यमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री बुधवार सुबह तक नहीं आ सके थे। गौरतलब है कि
उत्तर प्रदेश सरकार ने सोमवार को पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी और उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर रंधावा को राज्य के लखीमपुर खीरी का दौरा करने की अनुमति देने से इनकार कर दिया था। लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री ने ऐलान किया था कि वह किसानों के बीच जरूर पहुंचेंगे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस प्रशासन को आदेशित करते हुए उत्तर प्रदेश से सटे राज्यों की सीमाओं को सील करने के एवं चेकिंग अभियान चलाने के लिए सख्त निर्देश दिए हैं बताते चलें कि गट रविवार को किसानों के विरोध प्रदर्शन में हिंसा हुई, जिसमें कम से कम नौ लोग मारे गए।

 

 

 

कैराना। सरकारी स्कूल में शिक्षा ग्रहण कर रहे मासूम छात्र को चपरासी ने पीटा परिजनों ने पुलिस को तहरीर देकर कार्यवाही की गुहार लगाई
मंगलवार की देर रात कस्बे के एक मोहल्ला निवासी युवक ने तहरीर देकर आरोप लगाया कि उसके के 7 वर्षीय बालक को सरकारी स्कूल के ही चपरासी ने बेरहमी से पीटा है। जबकि बालक की कोई भी गलती नहीं थी उधर पुलिस ने मामले में तहरीर लेकर कार्यवाही का आश्वासन दिया है

 

 

कैराना। नगर पालिका परिषद द्वारा कस्बे को स्वच्छता अभियान के तहत दो केंटरो के माध्यम से कूड़ा उठाने का निर्णय लिया गया। उधर नगर पालिका परिषद के चेयरमैन हाजी अनवर हसन द्वारा फीता काटकर रवाना किया गया यह दोनों कैंटर नगर में रखे कूड़ेदान से कूड़ा उठाकर कूड़ा प्लांट पर डालेंगे ताकि नगर को स्वच्छता अभियान के तहत स्वच्छ आ जाए। इस मौके पर नगर पालिका परिषद के पदाधिकारी एवं सभासद आदि मौजूद रहे।

 

 

 

स्नान के दौरान यमुना में डूबे दो युवक ,एक को बचाया दूसरे की तलाश जारी

गोताखोरों की टीम ने पानी में तलाश कर एक युवक को बचा लिया जबकि दूसरा साथी देर रात तक पता नहीं चल सका था। स्नान करने आए थे दोनों हरियाणा निवासी युवक

कैराना। हरियाणा के सनौली से यमुना में नहाने आये दो युवक गहरे पानी में डूब गये। जबकि बुधवार को स्नान की सूचना पर पुलिस एवं गोताखोरों की टीम जमुना ब्रिज पर ही निगाह बनाए हुए थी कि इसी दौरान समय रहते गोताखोरो ने एक युवक को सकुशल बचा लिया जबकि रात तक भी यमुना में डूबे दुसरे युवक का पता नही चल सका था।
बुधवार की दोपहर को हरियाणा राज्य के थाना सनौली निवासी 35 वर्षीय विनोद अपने साथी राजू के साथ यमुना में नहाने आया था। दोनो हरियाणा की साइड यमुना के पानी में नहाने लगे। इसी दौरान दोनो युवक यमुना के गहरे पानी में डूबने लगे। शोर-शराबे की आवाज सुनकर वह मौके पर तैनात गोताखोरो ने यमुना में छलांग लगा दी। 10 मिनट के अन्दर ही गोताखोरो ने राजू को सकुशल यमुना से बाहर निकाल लिया। सूचना पर कैराना पुलिस व युवक के परिजन भी मौके पर पहुचे। यमुना में डूबे विनोद के परिजनो ने बताया कि विनोद व राजू बजरी सप्लाई करने का काम करते है। वही देर शाम तक भी विनोद का पता नही चल सका, काफी तलाश करने के बाद गोताखोर वापस लौट गए

 

You may have missed