उत्तरकाशी : सेब महोत्सव का ढोल पीटने से बेहतर होता सेब काश्तकारों को बुनियादी सुविधाएं मुहैया करायी जाती : विजयपाल

  • संतोष साह

सरकार द्वारा देहरादून में सेब महोत्सव के आयोजन पर प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक विजयपाल सजवाण ने सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि बेहतर होता काश्तकारों को सुविधाएं दी जाती। उन्होंने देहरादून में सेब महोत्सव कराने पर सरकार के तर्क कि हर्षिल के सेब को पहचान दिलाने के लिए इस महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है के जवाब में पूर्व विधायक का कहना है कि अपनी गुणवत्ता के लिए हर्षिल घाटी का सेब पहले ही विख्यात है, ओर देशभर में अपनी विशिष्ट पहचान रखता है।

उनका कहना है कि सेब महोत्सव के नाम पर सरकारी बजट का दुरुपयोग करने के बजाय इस घाटी के काश्तकारों को धरातल पर बेहतर सुविधाएं मुहैया कराई जाती तो सही मायने में ये महोत्सव सुखद होता लेकिन दुर्भाग्य है कि हमारी पिछली सरकार में निर्मित हर्षिल झाला में बना कोल्ड स्टोर का संचालन ठप पड़ा है, सरकार इस ओर ध्यान देने की बजाय सेब महोत्सव के नाम पर अपना ढोल पीटने को मशगूल है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार में हमारे प्रयासों से लगभग 9 करोड़ की लागत से बना 1200 मीट्रिक टन की क्षमता वाला कोल्ड स्टोर ठप पड़ा है और इसके संचालन न होने से करीबन 25 स्थानीय लोगों का रोजगार भी बन्द हो चुका है।
उन्होंने कहा कि एक ओर जहां सरकार हर्षिल के सेब की पहचान दिलाने की बात कर रही है, वहीं दूसरी और धरातल पर कोई सुविधा नहीं है।

पूर्व विधायक ने कहा कि सरकार शीघ्र कोल्ड स्टोर का संचालन प्रारंभ करे ताकि काश्तकार अपनी उपज का लाभ कमा सकें।

You may have missed