उत्तरकाशी : आल वेदर ड्रीम प्रोजेक्ट पर सीएम बोले,ब्लैक टॉप 5.5 पर पुर्नविचार जारी,पर्यावरणविदों की विकास में बाधा पर भी साधा निशाना

  • संतोष साह

सूबे के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उत्तरकाशी की गंगोत्री विधानसभा में एक पावर प्लांट के लोकार्पण के अवसर पर उन पर्यावरणविदों पर भी निशाना साधा जो सामरिक दृष्टि के अलावा बॉर्डर जैसे महत्वपूर्ण इलाकों में विकास के लिये बाधक बन रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एक वर्ष पूर्व उन्होंने हर्षिल एप्पल फेस्टिवल में मुख्यमंत्री सीमांत योजना बनाने की भी घोषणा की थी ताकि सीमांत इलाकों में विकास से तरक्की हो। उन्होंने इस योजना में अब और बजट बढ़ाने की भी बात कही।

मुख्यमंत्री ने माना कि सीमा की दृष्टि से यहाँ सड़क समेत अन्य सुविधाएं बढ़ाई जानी जरूरी है। यह पूछे जाने पर की आल वेदर चारधाम सड़क में अब शेष बची सड़क के ब्लैक टॉप को 5.5 रखे जाने के सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सरकार क्या कदम उठा रही है जवाब में उन्होंने कहा कि इस पर मंथन चल रहा है और आगे क्या कुछ निर्णय लिया जाना है इस पर प्रक्रिया चल रही है। उधर बाद में लोकार्पण के अवसर पर आयोजित सभा मे सीएम ने इको सेंसिटिव जोन से लेकर विकास में रोड़ा डालने को लेकर कतिपय पर्यावरणविदों पर भी निशाना साधा जो विकास में बाधक बनते जा रहे हैं।

उन्होंने कारगिल का उदाहरण देते हुए कहा कि वहाँ सीमा पर बुनियादी सुविधाएं होती तो पाकिस्तान किसी भी दशा में घुसपैठ करने की हिम्मत नहीं करता बावजूद इसके हमने उन्हें खदेड़ कर कारगिल पर विजय पाई।

Leave a Reply

You may have missed