आजादी के अमृत महोत्सव पर देश भक्ति के जज्बे को सैंट. आर. सी. कॉन्वेंट स्कूल शामली के विद्यार्थियो ने पोस्ट कार्ड के माध्यम से किया बया

डॉ0 रणवीर सिंह वर्मा/सनसनी सुराग न्यूज

सैंट. आर. सी. काॅन्वेंट स्कूल शामली में आजादी की 75 वीं वर्षगाठ पर आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर देश के प्रति अपनी सवेंदना एवं देश भक्ति के जज्बे को स्कूल के विद्यार्थियो ने पोस्ट कार्ड के माध्यम से बया किया।
आजादी के अमृत महोत्सव को मनाते हुए स्कूल के सभी विद्यार्थियों ने देश की आजादी के लिए शहीद हुए देश भक्तों को याद किया जिन्होने भारत वर्ष को आजाद कराने के लिए अपनी जान को हंसते-हंसते देश के ऊपर न्यौछावर कर दिया और हमे आजादी मे सांस लेने का अधिकार दिलाया। आज हम उन सभी देश भक्तो को शत् शत् प्रणाम करते है। जिन्होने अपने घर परिवार को छोड कर देश की आजादी के लिए शहादत का रास्ता चुन कर आजाद भारत का निर्माण किया।

 

 

 

 

आपस में हमे मिलकर फिर एक बार दिखाना है। भारत को विश्व गुरू बनाने का सपना साकार कर दिखाना है। विद्यार्थियो ने 2047 मे मेरे सपनो का भारत पर व गुमनाम शहीदो पर अपने विचारों को लिखते हुए कहा कि हमारे देश की महत्व पूर्ण विशेषता है कि यहा पर सभी वर्ण के लोग रहते है। सभी को अपने धर्म पर पूर्ण अधिकार है। हम सब आजादी के 75 वर्ष पूर्ण होने का जश्न आजादी के अमृत महोत्सव के रूप में मना रहे है। पिछले कुछ सालों में भारत ने अनेक क्षेत्रो में उन्नति की ह,ै कुछ क्षेत्रो में भ्रष्टाचार और कुरीतिया अधिक होने के कारण, देश की तरक्की बाधित हुई है और देश को पीछे धकेला हैं। हम चाहते हैं कि जिस दिन हम आजादी के 100 वर्ष पूरे होने का जश्न मनाये तब हमारा देश भ्रष्टाचार से मुक्त हो नये भारत के रूप मे ंविकसित हो और प्रत्येक व्यक्ति शिक्षित व समृद्ध हो और स्त्रियो को सभी क्षेत्रो में समानता का अधिकार मिले।

 

 

सभी व्यक्तियों को रोजगार प्राप्त हो व देश की अर्थव्यवस्था अत्याधिक मजबूत बने और भारत विश्व में एक शक्ति बनकर खडा हो। सभी को समानता का अधिकार प्राप्त होना चाहिए, इन सब सपनो को हम सब को मिलकर साकार करना होगा क्योकि आने वाले भारत का स्वर्णिम भविष्य आज के युवा वर्ग है। हमें अपने आप में बदलाव लाकर अपने देश को दोबारा से विश्वगुरू बनाना हैं।

 

 

 

इस अवसर पर स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती मीनू संगल जी ने देश के सभी शहीद देश भक्तो का याद कर उनके प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करते हुए कहा कि भारत को आजाद करने वाले शहीदो की शहादत को ध्यान में रखते हुए हम सबका कर्तव्य है कि हम सभी एकजूट हो कर भारतवर्ष की तरक्की के लिए हम समान रूप से सबको एक साथ मिलकर कार्य करने की ओर हमेशा अग्रसर रहना चाहिए जिससे कि एक स्वर्णिम भारत का निर्माण हो सके। उन्होने बताया कि डाक विभाग और केन्द्रिय शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा स्कूलों में निर्धारित दो विषय पर पोस्टकार्ड लेखन प्रतियोगिता आज हमारे सैंट. आर. सी. काॅन्वेंट स्कूल शामली में बच्चों द्वारा संपन्न कराई गयी।

 

कार्यक्रम में आदित्य कुमार, आर. पी एस मलिक, आकाश संगल, अंजु मलिक, सुरक्षा, निशा शर्मा, अंजु पँवार, भावना शर्मा, प्रतिभा शर्मा, गीता, इन्दू, सीमा पाचाँल, कविता संगल, शालिनी, सपना, विशाखा, आदि अध्यापक व अध्यापिकाओं का सहयोग रहा।

प्रधानाचार्या
सैंट. आर. सी. काॅन्वेंट स्कूल,
शामली।