उत्तरकाशी : पुलिस के दरोगा ने पेश की मानवता की मिशाल : पीठ पर लादकर लगभग 02 किलोमीटर पैदल पहुँचाया अस्पताल

उत्तरकाशी : पुलिस के दरोगा ने पेश की मानवता की मिशाल : पीठ पर लादकर लगभग 02 किलोमीटर पैदल पहुँचाया अस्पताल

- in Uttarkashi
605
0

 

वीरेंद्र सिंह / उत्तरकाशी

उत्तरकाशी पुलिस की मानवता का एक और उदहारण कल दिनांक- 05/06/2018 को देखने को मिला जब यमुनोत्री चौकी इंचार्ज SI लोकेन्द्र बहुगुणा मय स्टाफ के जाम खुलवाने हेतु पैदल भैरो घाटी से ऊपर के मोड़ो पर गये जहाँ पर जाम खुलवाते वक्त वहाँ पर मध्य प्रदेश से आये यात्री रांझी राजक के अचानक सीने मे दर्द होने के कारण जमीन पर गिर गया ।

जिसे देख एस0आई0 लोकेन्द्र बहुगुणा द्वारा उसे घोड़े पर बिठाने की कोशिश की गयी परन्तु सीने मे अत्यधिक दर्द के कारण वह घोडे पर संभल नही पा रहा था यात्री की तबीयत ज्यादा बिगड़ते देख एस0आई0 लोकेन्द्र बहुगुणा ने पालकी/डोली का इंतजार किये बिना मानवता की मिसाल पेश करते हुये यात्री को तुरंत अपनी पीठ पर लादकर लगभग 02 किलोमीटर पैदल ले जा कर प्राथमिक चिकित्सा केन्द्र यमुनोत्री पहुँचाया जहाँ पर इलाज के बाद डॉक्टरों द्वारा बताया गया कि अगर इस व्यक्ति को हॉस्पिटल लाने मे थोड़ी देर हो जाती तो लो ब्लड प्रेशर व हार्टअटैक के कारण से इनकी मृत्यु भी हो सकती थी।

पर्यटक रांझी राजक उपरोक्त द्वारा इलाज के बाद नम आँखों से उपनिरीक्षक लोकेन्द्र बहुगुणा के पैर पडकर उन्हे सीने से लगाकर जान बचाने के लिये आभार प्रकट कर धन्यवाद किया गया।

रांझी राजक के साथ आये अन्य पर्यटको द्वारा इस पुलिस अधिकारी के सराहनीय कार्य की भूरी-भूरी प्रशंसा की गई। राहगीरों द्वारा तो पुलिस को भगवान तक कि संज्ञा दी गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी: बडकोट वन विभाग के गेस्ट हाउस के नजदीक जंगल में मिला युवक का शव।

वीरेंद्र सिंह /सनसनी सुराग -ख़बर बड़कोट से है