उत्तरकाशी : हाईटेक हो रहा जिला चिकित्सालय: DM विधायक ने किया डिजिटल टोकन सिस्टम का शुभारंभ

उत्तरकाशी : हाईटेक हो रहा जिला चिकित्सालय: DM विधायक ने किया डिजिटल टोकन सिस्टम का शुभारंभ

- in Uttarkashi
554
0

 

वीरेन्द्र सिंह / उत्तरकाशी

जिला चिकित्सालय में मरीजों एवं उनके तीमारदारों को सुविधायें देने के उद््देष्य से क्षेत्रीय विधायक गोपाल सिंह रावत एवं जिलाधिकारी डा0 आषीश चौहान ने डिजिटल टोकन सिस्टम का उद्धाटन किया।

विधायक ने कहा कि जिला चिकित्सालय में डिजिटल टोकन सिस्टम लगने से मरीजों को सुविधा मिलेगी। रोगी का कौन सा नम्बर और किस चिकित्सक के पास उसे इलाज करवाना है इस सबकी जानकारी डिजिटल स्क्रीन पर मिलेगी, साथ ही रोगी को लाइन पर खड़ा नही रहना पड़ेगा। डिजिटल स्क्रीन लगने से चिकित्सको को भी सुविधा मिलेगी।

उन्होंने कहा कि कौन से मरीज को कौना सा इंजेक्षन अथवा दवाईयां देनी है अथवा कब देने है इस सबकी जानकारी स्क्रीन पर मिलेगी।

विधायक रावत ने अपने पौने दो वर्श के कार्यकाल की उपलब्धिंया गिनाते हुए कहा कि जनपद के सर्वागिण विकास के लिए वह कृत संकल्पित है। जनपद के विकास के कार्य उनकी प्राथमिकताओं में है निरन्तर विकास के कार्यो के लिए प्रयासरत है।

विधायक
रावत ने कहा कि जिला चिकित्सालय में षीर्घ ही आधुनिक आईस्यू व नए वार्ड बनायें जाएंगे। उन्होंने उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि इससे पूर्व जिला चिकित्सालय के लिए सीटीस्केन मषीन की स्थापना की गई है और एंबुलेंस क्रय/मरम्मतीकरण के लिए धनराषि आंवटित की गई। जिला चिकित्सालय की ओर से एंबुलेंस क्रय/मरम्मतीकरण नही होने पर विधायक
रावत ने गहरी नाराजगी व्यक्त की।
इस मौके पर जिलाधिकारी डा0 आषीश चौहान ने कहा कि जिला चिकित्सालय में लगे डिजिटल स्क्रीन को क्यूमार्क नाम दिया गया है। उन्होंने कहा कि रात को मरीज को दवाई देने से पहले इसमे अलार्म बजेगा जिसमें कौन से मरीज को दवाई देनी है इसकी जानकारी मिलेगी। उन्होंने कहा कि कम्प्यूटर आपरेटर से गलती हो सकती है इसलिये चिकित्सालय के सीनियर आफिसर मरीज का डाटा वेरिफाई करेंगे तभी स्क्रीन पर मरीज का विवरण डाला जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may also like

उत्तरकाशी: डीएम व विधायक ने किया जनपद में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत का संयुक्त रूप से शुभारम्भ।

सनसनी सुराग/उत्तरकाशी देष व प्रदेष के साथ ही